भाजपा नेता प्रेमसिंह बाजौर के साथ आंदोलनरत किसानों ने की मारपीट

अलवर। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं सैनिक कल्याण सलाहकार समिति के पूर्व अध्यक्ष विधायक प्रेमसिंह बाजौर के साथ आंदोलनरत किसानों ने आज मारपीट करते हुए उनकी गाड़ी से तोड़फोड़ की।

जयपुर से दिल्ली जाते वक्त हरियाणा-राजस्थान बॉर्डर पर चल रहे किसान आंदोलन में आंदोलनरत किसानों ने बाजौर पर हमला किया गया। राजस्थान-हरियाणा बॉर्डर पर आंदोलनरत किसानों ने विरोध करते हुए गाड़ी में तोड़फोड़ कर डाली एवं बाजौर के साथ मारपीट करते हुए जान से मारने पर उतारू हो गए।

जब इस मामले में शाहजहांपुर थानाधिकारी से बात की गई तो वो अनजान बने हुए नजर आए और कहा कि यहां ऐसा कुछ भी नहीं हुआ। प्रेम सिंह बाजौर का कहना था कि वह बच गए नही तो जान से मार देते बहुत जबरदस्त हमला किया है। गाड़ी को तो पूरी को ही फोड़ दिया। और मामला दर्ज करवाने की बात पर कहा कि मामला दर्ज कहा करवाते मुश्किलों से तो वहां से निकले है नहीं तो वो लोग जान से मार देते।

बाजौर ने कहा कि वह जयपुर से दिल्ली जा रहे थे। किसान आंदोलन के वहां पहुंचे तो लोगों ने गाड़ियों के शीशे तोड़ दिए, मेरे एवं मेरे साथियों के लठ भी मारे जिससे मुझे एवं उनको चोट आई है। मेरे कपड़े फाड़ दिए। जिसके बाद भी इधर उधर लठ मारने लगे।

बाजौर ने कहा कि इस प्रकार जो काम कर रहे हैं उस पर प्रशासन को ध्यान करना चाहिए एवं अमल में लाना चाहिए और अगर रास्ते चलते लोगों के साथ ये लोग मारपीट कर रहे हैं तो क्या ये किसान हो सकते हैं। क्या किसान ऐसा कर सकते हैं। यह किसानों के नाम पर बदमाशी कर रहे हैं। ऐसे लोगों को चिन्हित कर बंद करना चाहिए।