बंगाल में भाजपा विधायक देवेन्द्र नाथ राॅय की रहस्यमयी परिस्थिति में मौत

रायगंज। पश्चिम बंगाल में उत्तरी दिनाजपुर जिले के हेमताबाद से भारतीय जनता पार्टी के विधायक देवेन्द्र नाथ राॅय का शव सोमवार सुबह उनके घर से एक किलोमीटर दूर बिंदाल गांव में एक दुकान के सामने लटका हुआ पाया गया।

भाजपा नेतृत्व और विधायक के परिवार वालों ने आरोप लगाया कि राॅय की पहले हत्या की गयी और उसके बाद उन्हें लटका दिया गया। पुलिस राॅय की रहस्यमय परिस्थिति में मौत की घटना की जांच कर रही है। पुलिस ने कहा है कि पोस्टमार्टम के बाद ही उनकी मौत के कारण का पता चल सकेगा। विधायक के शव को रायगंज सरकारी अस्पताल भेजा गया है।

उल्लेखनीय है कि मई 2019 में राॅय के साथ सुभ्रांषु रॉय, तुषार कांती भट्टाचार्य और 50 से अधिक पार्षद नई दिल्ली में भाजपा के वरिष्ठ नेता मुकुल रॉय और कैलाश विजयवर्गीय के उपस्थिति में भाजपा में शामिल हुए थे। रॉय इससे पहले मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के विधायक थे लेकिन बाद में वह भाजपा में शामिल हो गए।

रॉय के परिवार के सदस्याें ने बताया किया है कि मोटरसाइकिल में सवार कुछ लोगों के फोन आने के बाद विधायक लगभग एक बजे अपने बलिया स्थित घर से बाहर निकले थे। उनका शव एक बंद परचून की दुकान के पास लटका हुआ मिला।

नड्डा ने भाजपा विधायक की हत्या की निंदा की

भारतीय जनता पार्टी अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने पश्चिम बंगाल में हेमताबाद के पार्टी विधायक देबेंद्र नाथ राय की कथित नृशंस हत्या की कड़ी निंदा करते हुए इसे आश्चर्यजनक और दु:खद करार दिया है।

नड्डा ने पार्टी के विधायक की कथित रुप से नृशंसतापूर्वक हत्या पश्चिम बंगाल में गुंडाराज और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी सरकार की कानून एवं व्यवस्था की असफलता है। उन्होंने कहा कि राज्य कि जनता भविष्य में ऐसी सरकार को माफ करने वाली नहीं है। पार्टी इस कृत्य की कठोर भर्त्सना करती है।