प्रणव सिंह चैम्पियन को भाजपा ने किया पार्टी से निष्कासित

नैनीताल। उत्तराखंड में भारतीय जनता पार्टी के खानपुर क्षेत्र के विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैम्पियन को बुधवार को छह साल के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया।

पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव अरुण सिंह की ओर से इस आशय का एक पत्र आज जारी किया गया है। सिंह की ओर से कहा गया है कि विधायक चैम्पियन को पार्टी अनुशासनहीनता के आरोप में पार्टी की सदस्यता से छह साल के लिए निष्कासित किया जाता है। यह निर्णय तत्काल प्रभाव से लागू होगा।

पार्टी की ओर से इस निर्णय की जानकारी मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत और प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट के अलावा निष्कासित विधायक चैम्पियन को भी भेज दी गई है। साथ ही राष्ट्रीय अध्यक्ष को भी सूचना प्रेषित कर दी गई है।

उल्लेखनीय है कि विधायक चैम्पियन को पार्टी ने अनुशासनहीनता के आरोप में पहले ही छह माह के लिए निलंबित किया था। निष्कासन से पहले पार्टी की ओर से विधायक से दस दिन में जवाब देने को कहा गया था। इसके बाद पार्टी ने विधायक के खिलाफ आज यह सख्त कदम उठाया।

पार्टी ने यह सख्त कदम सोशल मीडिया में प्रचारित एक वीडियो के बाद उठाया है। वीडियो में विधायक चैम्पियन अपने समर्थकों के साथ हथियारों को लहराते हुए संगीत पर झूमते हुए दिखाई दे रहे थे। उनके हाथ में एक राइफल के साथ-साथ तीन पिस्टल भी दिखाई दे रही थी। वीडियो में वे शराब का सेवन करते हुए दिखाई दे रहे हैं और उत्तराखंड के खिलाफ अभद्र भाषा का प्रयोग करते हुए दिखाई दे रहे थे।

वीडियो के सोशल मीडिया में वायरल होने के बाद पार्टी ने इसे अनुशासन के खिलाफ माना था और पार्टी नेताओं ने इस पर बेहद कड़ी प्रतिक्रिया जारी की थी। पार्टी के प्रदेश प्रभारी श्याम जाजू, पार्टी अध्यक्ष अजय भट्ट के अलावा राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी और मुख्यमंत्री ने भी कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की थी। इसके बाद पार्टी की ओर से चैम्पियन को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया था। पत्र में उनसे कहा गया था कि क्यों न उन्हें पार्टी से निष्कासित कर दिया जाए।

वीडियो के सोशल मीडिया में आने से पहले भी पार्टी ने चैम्पियन को अनुशासनहीनता के आरोप में छह माह के लिए निलंबित कर दिया गया था। चैम्पियन का झबरेड़ा से भाजपा विधायक देशराज कर्णवाल के साथ राजनीतिक विवाद काफी चर्चाओं में रहा है। स्वयं प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट और मुख्यमंत्री को इस पर बीचबचाव करना पड़ा था। इसके बावजूद विधायक चैम्पियन की हरकतों पर लगाम नहीं लग पाई।