कर्नाटक के विधायकों की कीमत 100 -100 करोड रुपए!

BJP offered 100 crore, cabinet post to MLA's: Kumaraswamy
BJP offered 100 crore, cabinet post to MLA’s: Kumaraswamy

बेंगलुरु। कर्नाटक में त्रिशंकु विधानसभा के बाद सरकार बनाने के लिए चल रही विभिन्न राजनीतिक दलों की सक्रियता के बीच जद (एस) के नेता एचडी कुमारास्वामी ने बीजेपी पर विधायकों की खरीद-फरोख्त का आरोप लगाते हुए कहा है कि उनके दल के विधायकों को 100 करोड़ रुपए और कैबिनेट पद की पेशकश की गई है।

जद (एस) के नवनिर्वाचित विधायकों की आज यहां बैठक हुई जिसमें कुमारास्वामी को पार्टी के विधायक दल का नेता चुना गया। नेता चुने जाने के बाद कुमारास्वामी ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि भाजपा से गठबंधन को कोई प्रश्न ही नहीं है और उसने हमेशा जद(एस) के वोटों को बांटने का प्रयास किया है।

कुमारास्वामी ने कहा कि वह नहीं चाहते हैं कि कर्नाटक में विधायकों की खरीद फरोख्त की जाये किंतु उन्होंने भाजपा पर यह आरोप भी लगाया कि उनकी पार्टी के विधायकों को 100 करोड़ रुपए और कैबिनेट में पद देने की पेशकश की गई है।

कर्नाटक विधानसभा के कल आये नतीजों में किसी भी पार्टी को स्पष्ट बहुमत नहीं मिलने के बाद 78 सीटें जीतने वाली कांग्रेस ने जद(एस) को समर्थन देने की घोषणा की है। उधर 104 विधायकों के साथ सबसे बड़े दल के रुप में उभरी भाजपा भी राज्य में सरकार बनाने के लिए प्रयासरत है। जेडीएस को 37 सीटें मिली हैं । जद(एस) और कांग्रेस मिलाकर बहुमत के आंकड़े को हासिल करने में सक्षम है।

भाजपा से गठबंधन से स्पष्ट इंकार करते हुए जद(एस) नेता ने कांग्रेस का समर्थन के लिए धन्यवाद करते हुए कहा कि भाजपा ने स्वयं जो अन्य राज्यों में किया है उसके बाद उसे कोई अधिकार नहीं है कि हमें नैतिकता का पाठ पढ़ाये। भाजपा के पास सरकार बनाने के लिए पर्याप्त विधायक नहीं हैं और राज्यपाल को हमें आमंत्रित करना ही होगा।

उन्होंने आरोप लगाया कि आयकर विभाग और अन्य एजेंसियों का इस्तेमाल विपक्ष को निशाना बनाने के लिए किया जा रहा है। केन्द्र सरकार अपने अधिकारों का गलत इस्तेमाल कर रही है और श्री नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री होने के बावजूद भाजपा को बहुमत दिलाने में नाकाम रहे।

उन्होंने कहा कि भाजपा और कांग्रेस दोनों ने हमसे संपर्क किया था।हम भाजपा को बहुत अच्छी तरह से जानते हैं और इस बार हम सिर्फ कांग्रेस के साथ जाएंगे। उन्होंने कहा कि बिना पार्टी के बहुमत के मैं मुख्यमंत्री बनूंगा इसका मुझे दुख है किंतु कर्नाटक की जनता के लिए मुझे यह करना पड़ रहा है। मैं अपने पिता की इच्छाओं के विरुद्ध नहीं जाना चाहता।

कुमारस्वामी ने भाजपा को चेताया कि यदि पार्टी ने सरकार बनाने के लिए उनकी पार्टी या कांग्रेस के विधायकों की खरीद.फरोख्त करने का प्रयास किया तो हम उनका दुगना नुकसाना करेंगे। उन्होंने कहा यह सरकार बनाने का सवाल नहीं है। यह विचारधारा के खिलाफ खड़े रहने का सवाल है और हम भाजपा की विचारधारा के विरुद्ध हैं।

सरकार बनाने के लिए कांग्रेस के बिना किसी शर्त के समर्थन की बात करते हुए भाजपा के कर्नाटक प्रभारी प्रकाश जावड़ेकर से मुलाकत के संबंध में पूछे गए सवाल पर जद(एस)नेता ने कहा कि वह हैं कौन। भाजपा के किसी भी नेता से मुलाकात करने की खबर को बकवास बताते हुए कुमारास्वामी ने कहा वह कांग्रेस के राज्य अध्यक्ष जी परमेश्वर के साथ एक बार फिर राज्यपाल वाजूभाई वाला से मुलाकात करेंगे।