पिल्लूखेडा मंडल में बीजेपी कार्यकर्ताओं ने मनाई मुखर्जी की पुण्यतिथि

BJP Pillukhera mandal workers remembers Shyama Prasad Mukherjee on his death anniversary
BJP Pillukhera mandal workers remembers Shyama Prasad Mukherjee on his death anniversary

जींद। भारतीय जनता पार्टी के पिल्लूखेडा मंडल में शनिवार को जनसंघ के संस्थापक सदस्य डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी की 65वीं पुण्यतिथि बलिदान दिवस के रूप में मनाई गई। उनके चित्र पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी गई।

इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम की अध्यक्षता मंडल अध्यक्ष सुंदर देशवाल ने की। मुख्य वक्ता भाजपा जिला प्रचार सचिव राजवीर रोहिल्ला ने मुखर्जी के जीवनी तथा कश्मीर को लेकर उनके द्वारा किए गए संघर्ष के बारे में विस्तार से बताया।

रोहिल्ला ने कहा कि मुखर्जी ने संसद में दिए अपने भाषण में धारा 370 को समाप्त करने की भी जोरदार वकालत की थी। अगस्त 1952 में जम्मू की विशाल रैली में उन्होंने अपना संकल्प व्यक्त किया था कि या तो मैं जम्मू-कश्मीर को भारतीय संविधान प्राप्त कराऊंगा या फिर इस उद्देश्य की पूर्ति के लिये अपना जीवन बलिदान कर दूंगा।

जम्मू कश्मीर में उनकी हत्या हुई थी, उन्होंने एक विधान एक सविधान एक निशान की पैरवी की। इस मौके पर किसान मोर्चा के जिला सचिव महेंद्र कालवा, किसान मोर्चा के जिला मीडिया सचिव देवीलाल कुंडू, डॉक्टर अशोक बनिया, खेड़ा मंडल उपाध्यक्ष रोहताश कुंडू, दलबीर मांडी, रणबीर सैनी,जस्सू देशवाल समेत बडी संख्या में बीजेपी कार्यकर्ता उपस्थित थे।