राजस्थान की जनता गहलोत की जादूगरी वर्ष 2023 से पहले बंद कर देगी : पूनियां

प्रतापगढ़। राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डा सतीश पूनियां ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर किसान और युवाओं से वादाखिलाफी करने एवं सरकार चलाने में पूरी तरह विफल होने का आरोप लगाते हुए कहा है कि प्रदेश की जनता उनकी जादूगरी वर्ष 2023 से पहले बंद कर देगी।

डा पूनियां आज प्रतापगढ़ जिले के धरियावद में विधानसभा उपचुनाव में पार्टी प्रत्याशी खेत सिंह मीणा के समर्थन में आयोजित सभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि संपूर्ण किसान कर्जमाफी का वादा करने वाले गहलोत ने आज तक किसानों का कर्जा माफ नहीं किया है, जिससे प्रदेश में सैकड़ों किसान आत्महत्या कर चुके हैं और रीट परीक्षा में धांधली से युवाओं को बड़ी निराशा हाथ लगी है, जिसके कारण कई युवा भी आत्महत्या कर चुके हैं।

उन्होंने कहा कि भाजपा रीट पेपर लीक मामले की राज्य सरकार से केन्द्रीय जांच ब्यूरो
(सीबीआई) से जांच की सिफारिश करने की मांग कर रही है, जिससे दूध का दूध, पानी का पानी हो जाएगा।

उन्होंने कहा कि भाजपा ही विश्व का एकमात्र ऐसा राजनीतिक दल है, जहां चाय बेचने वाला देश का प्रधानमंत्री बन सकता है और केलू के झोपड़े में रहने वाले खेत सिंह मीणा को पार्टी ने विधानसभा उपचुनाव का प्रत्याशी बनाया है, जो जनता के आशीर्वाद से निश्चित विजयी होंगे। उन्होंने कहा कि यह उपचुनाव कांग्रेस को आइना दिखाने वाला चुनाव होगा, यह उपचुनाव धरियावद के विकास का चुनाव होगा। यह उपचुनाव राजस्थान में भाजपा की जीत का मार्ग प्रशस्त करेगा।

उन्होंने कहा कि भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व ने वल्लभनगर और धरियावद में आम कार्यकर्तायों को टिकट दी है, धरियावाद से खेतसिंह मीणा जैसे एक आम कर्तकर्ता को टिकट दी है।

इस अवसर पर उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र सिंह राठौड़ ने कहा कि राज्य की गहलोत सरकार झूठी घोषणाएं करने में मशगूल है। गहलोत शासन में बहन-बेटी सुरक्षित नहीं हैं।

राठौड़ ने कहा कि राज्य में आए दिन रंगदारी-फिरौती और फायरिंग की घटनाएं चरम पर हैं, लेकिन राजस्थान सरकार इनकी रोकथाम में पूर्णत: विफल है। धरियावाद को कांग्रेस शासित गहलोत सरकार ने विकास में पीछे कर दिया है।

इस मौके उदयपुर सांसद अर्जुनलाल मीणा, भाजपा अनुसूचित जनजाति मोर्चा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष चुन्नीलाल गरासिया, भाजपा प्रदेश महामंत्री सुशील कटारा, प्रदेश उपाध्यक्ष हेमराज मीणा, पाली के पूर्व सांसद पुष्प जैन सहित कई नेता मौजूद थे।