भाजपा के बागी नेता और विधायक घनश्याम तिवाडी ने दिया इस्तीफा

जयपुर । राजस्थान भारतीय जनता पार्टी के बागी नेता और सांगानेर के विधायक घनश्याम तिवाड़ी ने आज पार्टी से इस्तीफा देने की घोषणा करते हुये कहा कि वह अपनी नवगठित भारत वाहिनी से आगामी विधानसभा में सभी 200 सीटों पर अपने उम्मीदवार खडा करेगें।

तिवारी ने आज यहां पत्रकारों से कहा कि वह लम्बे समय से पार्टी में लागू अघोषित आपातकाल के लिये संघर्ष करते रहे है और इसके लिये लगातार प्रदेश और केद्रीय नेतृत्व को आगाह करते रहे लेकिन इसके बावजूद भी पार्टी में आंतिरक लोकतंत्र की समाप्ति, केन्द्रीय नेतृत्व द्वारा प्रदेश के सामने घुटने टेकने की नीति से दुखी होकर इस्तीफा दे रहे है।

उन्होंने भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को एक पत्र लिखकर पार्टी से अपना इस्तीफा स्वीकार करने का आग्रह किया। उन्होंने पत्र में पार्टी द्वारा देश में अघोषित आपात काल लागू कर सवेैधानिक संस्थाओं को पंगु बनाने, राजस्थान के सत्तालोलुप मंत्रियों के आगे घुटने टेकने, भ्रष्टाचार में लिप्त प्रदेश मंत्रिमंडल के लोगों को बढावा देने का आरोप भी लगाया।

तिवाडी ने कहा कि भारत निर्वाचन आयोग ने हाल ही में उनके द्वारा गठित भारत वाहिनी पार्टी का पंजीकरण कर लिया है ऐसे में वह आगामी विधानसभा चुनावों में प्रदेश की सभी 200 सीटों पर अपने उम्मीदवार खडा करेगी और वह स्वयं अपने निर्वाचन क्षेत्र सांगानेर से ही चुनाव लडेंगे।

एक प्रश्न पर उन्होंने स्वीकार किया कि भारतीय जनता पार्टी के 15 से अधिक विधायक उनके साथ है और इसके अलावा कांग्रेस के भी विधायक उनके संपर्क में है। उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी असंतुष्टों का जमावडा नहीं होगा लेकिन कांग्रेस और भाजपा दोनों से ही अच्छी छबि के लोगों को शामिल किया जायगा ओर यह पार्टी प्रदेश में वोट कटवा पार्टी नहीं बनेगी।

यह पूछे जाने पर कि नवगठित पार्टी किसके नेतृत्व में चुनाव लडेगी पर, तिवाडी ने कहा कि उनके नेतृत्व में ही पार्टी चुनाव मैदान में उतरेगी। उन्होंने कहा कि नवगठित पार्टी का प्रथम प्रांतीय अधिवेशन आगामी तीन जुलाई को आयोजित किया जा रहा है जिसमें प्रदेश की सभी 200 विधानसभा क्षेत्रों के प्रतिनिधि शामिल होंगे और आगामी चुनावी रणनीति पर चर्चा करेंगे।