कृषि कानूनों से किसानों काे मिलेगा उपज का वाजिब मूल्य : भाजपा

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी ने कहा है कि कृषि सुधारों के लिए लाए गए कानूनों से किसानों को उनकी उपज का वाजिब मूल्य मिलेगा और उनकी आय दोगुनी होगी।

भाजपा की रविवार को यहां सम्पन्न राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक के दौरान पारित राजनीतिक प्रस्ताव में कहा गया कि इन कानूनों से किसानों को अपनी उपज कहीं भी बेचने की स्वतंत्रता मिली है।

भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ. रमन सिंह ने प्रस्ताव की जानकारी देते हुए कहा कि भारत के किसानों की उत्पादन, भंडारण और वितरण की सुविधा के लिए नए कृषि कानून बनाए गए। देश के कृषि क्षेत्र में आधारभूत सुविधाओं के विकास और किसानों के उत्पाद के मूल्य में वृद्धि करने के लिए ये कदम उठाए गए हैं।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कृषि कल्याण, कृषि सुधार और किसानों के हित में श्री मोदी ने तीन कानूनों के माध्यम से बड़े फैसले किए। इससे किसानों को उनकी उपज का वाजिब मूल्य मिले, आय दोगुनी हो, किसान अपनी उपज कहीं भी बेच सके, ऐसी स्वतंत्रता मिली है।

पांच राज्यों में होने जा रहे आगामी विधानसभा चुनावों के संदर्भ में सिंह ने कहा कि इस बार पश्चिम बंगाल की जनता का अपार समर्थन प्रधानमंत्री के नेतृत्व में भाजपा को मिल रहा है। वहाँ की जनता अलोकतांत्रिक और दमनकारी सरकार से त्रस्त है, इसलिए भाजपा निश्चित रूप से वहां जीत हासिल करेगी।

उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के दौरान भारत के सामने सबसे बड़ी चुनौती इस संकट से निपटने की थी, क्योंकि 130 करोड़ की आबादी वाले देश में स्वास्थ्य सम्बन्धी मूलभूत सुविधाएं मजबूत नहीं थी। इसके बावजूद प्रधानमंत्री के कुशल नेतृत्व के चलते लॉकडाउन के 48 घंटे के भीतर करोड़ों गरीब मज़दूर आबादी को राहत देने के लिए 2.76 लाख करोड़ रुपए के पैकेज की घोषणा की गयी। इससे 80 करोड़ ज़रूरतमंदों तक राशन पहुँचाने का काम किया गया।

उन्होंने कहा कि कोरोना काल में सेवा के संकल्प में संगठन को गतिशील करने का काम माननीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किया जिसके चलते सेवा ही संगठन कार्यक्रम से 22 करोड़ से अधिक लोगों को खाने की व्यवस्था की गई। सिंह ने कहा कि हमारे वैज्ञानिकों की मेहनत के कारण भारत ने दो-दो कोरोना वैक्सीन बनाने में सफलता हासिल की। आज दुनिया के 17 देशों को भारत वैक्सीन भेज रहा है।

भारत ने एक करोड़ कोरोना टीकाकरण का लक्ष्य मात्र 34 दिन में पूरा किया है, जबकि ब्रिटेन ने 56 दिन में एक करोड़ टीकाकरण किया है। उन्होंने कहा कि राजनीतिक प्रस्ताव में आम बजट को ऐतिहासिक बताते हुए कहा गया है कि इससे आत्मनिर्भर भारत का संकल्प पूरा होगा और यह सर्वस्पर्शी, समावेशी बजट देश के विकास की नींव को मज़बूत करेगा।

भाजपा के महासचिव भूपेन्द्र यादव ने  मोदी के हवाले से कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का संकल्प केवल सत्ता प्राप्त करने के लिए नहीं है बल्कि उसकी प्राथमिकता देश के लिए काम करने और देश को बड़ा बनाने की है।

उन्होंने कहा कि मोदी ने भाजपा के राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक के दौरान अपने संबोधन में देश भर के कार्यकर्ताओं को संदेश दिया कि सबका साथ सबका विकास भाजपा का मूलमंत्र है। इस मूल मंत्र की थ्योरी को लेकर भाजपा देश में सकारात्मक कार्य कर रही है।

यादव ने कहा कि पिछला एक वर्ष कोविड के संक्रमण में गुजरा है, लेकिन डिजिटल और वेब मीटिंग के माध्यम से भाजपा की पूरे देश में सक्रियता रही है।अब स्थिति सामान्य हो रही है, अब अनुमति भी मिलने लगी है, इसलिए अब भाजपा की राष्ट्रीय पदाधिकारियों की पहली प्रत्यक्ष बैठक हुई है।

उन्होंने कहा कि भाजपा के अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने बैठक के दौरान अपने सम्बोधन में कार्यकर्ताओं से आह्वान किया कि सेवा ही संगठन और आत्मनिर्भर भारत के संकल्प को पूरा करने के लक्ष्य को लेकर कार्यकर्ता देश भर में कार्यक्रम तय करें।

इस बैठक में भाजपा ने एक राजनीतिक प्रस्ताव पारित करके मोदी का अभिनंदन करते हुए कहा कि कोरोना की चुनौती से बखूबी निपटते हुए प्रधानमंत्री के नेतृत्व में देश दुनिया के सामने एक मिसाल के तौर पर उभरा है। भाजपा के राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक का मोदी ने उद्घाटन किया।

भाजपा के महासचिव अरुण सिंह ने संवाददाताओं को बताया कि नड्डा की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में कई राज्यों में होने जा रहे आगामी विधानसभा चुनावों को लेकर पार्टी की रणनीति पर चर्चा की गयी।

उन्होंने कहा कि आत्मनिर्भर भारत अभियान और कृषि कानूनों पर भी बैठक में चर्चा की गई। साथ ही राज्य आधारित समूह की बैठकों और भविष्य की योजनाओं पर चर्चा और घोषणा की गई। इसके अलावा राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठकों की रूपरेखा, राज्य की इकाइयों द्वारा चलाए जा रहे कार्यक्रमों और चुनावी राज्यों की तैयारियों को लेकर मंथन किया गया।

कोरोना महामारी के चलते जान गंवाने वाले लोगों के प्रति संवेदना प्रकट करने के लिए बैठक में शोक प्रस्ताव भी पारित किया गया। इस बैठक में भाजपा के राष्ट्रीय पदाधिकारी, राज्यों के अध्यक्ष, राज्यों के प्रभारी और संगठन महासचिव भाग ले रहे हैं।