सरोज खान ने डांस को ही जिंदगी बना ली थी तभी वह बॉलीवुड की कहलाती थीं ‘मास्टरजी’

Bollywood Dance choreographer saroj khan passed away
Bollywood Dance choreographer saroj khan passed away

सबगुरु न्यूज। आज बॉलीवुड ने अपना ‘मास्टरजी’ खो दिया।‌ अगर दर्शकों ने 60 और 70 के दशक की प्रसिद्ध फिल्मी डांसर हेलन को फिल्मी पर्दे पर डांस करते हुए देखा है तो सरोज खान को पर्दे के पीछे कई अभिनेत्रियों को अपनी उंगलियों पर नचाती रहीं। अंतर इतना है कि हेलन पर्दे पर थिरकती रहीं जबकि सरोज खान पर्दे के पीछे लेकिन दर्शक दोनों के दीवाने हो गए थे। सरोज खान ने अपने लगभग 50 साल फिल्मी करियर में कई हीरोइनों का डांस संवारा। फिल्मी पर्दे पर हीरोइनों का थिरकना बता देता था कि यह सरोज खान का ही कोरियो है। आज सरोज खान हमारे बीच नहीं रहीं। पिछले कई दिनों से बीमार चल रहीं सरोज खान ने मुंबई के एक अस्पताल में गुरुवार देर रात दिल का दौरा पड़ने के बाद 71 साल की आयु में दुनिया को अलविदा कह दिया । उन्होंने आखिरी समय तक अपनी जिंदगी डांस को ही समर्पित कर दी थी, यानी डांस ही जीवन उनका हिस्सा बन गया था। तभी पूरा बॉलीवुड उन्हें ‘मास्टरजी’ के नाम से बुलाता था।

‌सरोज खान का कोरियोग्राफी का करियर बेहद लंबा रहा। अपने शुरुआती करियर में उन्होंने फिल्मों में भी काम किया। लेकिन बाद में सरोज खान और डांस दोनों एक दूसरे के पूरक बन गए। सरोज खान के करियर में माधुरी दीक्षित ऐसी सितारा रहीं जिनके साथ ऑडियंस ने उनका काम खूब सराहा और उन्हें फिल्म इंडस्ट्री में एक अलग पहचान दिलाई। सरोज खान ने करियर में 2000 से ज्यादा गानों को कोरियोग्राफ किया था। मीनाक्षी शेषाद्री, माधुरी दीक्षित, ऐश्वर्या राय, श्रीदेवी और करीना कपूर के करियर को संवारने में सरोज खान की कोरियोग्राफी का बड़ा हाथ माना जाता है। सरोज खान के निधन पर आज अमिताभ बच्चन, माधुरी दीक्षित से लेकर शाहरुख खान, अक्षय कुमार समेत पूरे बॉलीवुड ने अपने मास्टरजी को याद करते हुए श्रद्धांजलि दी है।

सरोज खान का असली नाम था निर्मला नागपाल

सरोज खान का असली नाम निर्मला नागपाल है। उनके पिता का नाम किशनचंद सद्धू सिंह और मां का नाम नोनी सद्धू सिंह है। भारत-पाकिस्तान के बंटवारे के बाद सरोज खान अपने परिवार के साथ पाकिस्तान से भारत आ गई थीं। सरोज ने फिल्मी करियर की शुरुआत बतौर बाल कलाकार महज 3 साल की उम्र की थी। उनकी पहली फिल्म ‘नजराना’ थी जिसमें उन्होंने श्यामा नाम की बच्ची का किरदार निभाया था।

कोरियॉग्रफर सरोज ने डांस की ट्रेनिंग बी सोहनलाल से ली थी। इसी दौरान वह और सोहनलाल एक दूसरे के करीब आए। इसके बाद सरोज ने 43 साल के सोहनलाल से शादी कर ली। उस वक्त सरोज खान की उम्र महज 13 साल थी। जिस वक्त सरोज ने सोहन लाल पहले से शादी की थी वह पहले से ही शादीशुदा थे। सोहनलाल के लिए सरोज खान ने अपना धर्म भी बदला और इस्लाम धर्म कबूला था। उन्होंने अपना नाम भी बदला था। सरोज खान को तीन बार नेशनल अवार्ड से भी सम्मानित किया गया था।‌ सरोज खान बीमारी के बावजूद भी अभी भी फिल्मों में डांस को लेकर बहुत ही सक्रिय रहती थी ।

माधुरी दीक्षित को थिरकना सरोज खान ने सिखाया

सरोज खान ने अपने करियर की शुरुआत साल 1974 से गीत मेरा नाम से की थी। मीनाक्षी शेषाद्री, माधुरी और श्रीदेवी के साथ 80 और 90 के दशक में सरोज खान ने कोरियोग्राफर के तौर पर खूब काम किया। इसके बाद से बॉलीवुड में उनका सितारा खूब चमका। सबसे ज्यादा माधुरी दीक्षित साथ सरोज खान की फिल्मी पर्दे पर ट्यूनिंग दर्शकों ने खूब सराही।‌ माधुरी के फिल्मी करियर की शुरुआत से लेकर आखिरी तक सरोज खान उन्हें डांस के नए-नए टिप्स देती रहीं। बता दें कि सरोज खान को सबसे ज्यादा माधुरी दीक्षित मानती थीं।

माधुरी के करियर को संवारने में सरोज खान का बड़ा हाथ माना जाता है। फिल्म ‘तेजाब’ के गाने ‘एक दो तीन’ से पहली बार सफलता का स्वाद चखने वाली माधुरी ने सरोज के डांस डायरेक्शन में एक से एक बेहतरीन सुपरहिट गाने दिए थे। सरोज खान ने माधुरी की कुछ मशहूर फिल्मों बेटा, याराना, अंजाम देवदास, गुलाब गैंग जैसी फिल्मों में बतौर डांस डायरेक्टर काम किया था। माधुरी की फिल्म ‘बेटा’ का गाना ‘धक धक करने लगा’, ‘थानेदार’ का ‘तम्मा तम्मा लोगे’, ‘याराना’ का ‘मेरा पिया घर आया’, ‘देवदास’ का ‘मार डाला’ और ‘कलंक’ का ‘तबाह हो गए’ जैसे सुपरहिट गानों को सरोज खान ने ही कोरियॉग्राफ किया था।

श्रीदेवी-ऐश्वर्या राय के साथ भी जोड़ी सराही गई

सरोज खान ने श्रीदेवी के करियर की कई बड़ी सुपरहिट फिल्मों में डांस डायरेक्टर के तौर पर काम किया था। इन फिल्मों में ‘नगीना’, ‘मिस्टर इंडिया’, ‘निगाहें’ और ‘चांदनी’ ‘लम्हे’ जैसी बड़ी और सुपरहिट फिल्में शामिल हैं। इन सभी फिल्मों के गानों में श्रीदेवी की डांस परफॉर्मेंस को काफी सरहाना मिली थी। बॉलीवुड की सबसे सुंदर हीरोइनों में शुमार ऐश्वर्या राय बच्चन के करियर को संवारने में भी सरोज खान का बड़ा हाथ रहा है।

ऐश्वर्या की पहली हिंदी फिल्म ‘और प्यार हो गया’ कि कोरियॉग्रफर सरोज खान ही थीं। इस फिल्म के गाने आज तक काफी फेमस हैं। इसके अलावा ऐश्वर्या की सबसे बड़ी फिल्में ‘ताल’, ‘हम दिल दे चुके सनम’, ‘देवदास’ और ‘गुरु’ की डांस डायरेक्टर भी सरोज खान ही थीं। बाद में श्रीदेवी ने सरोज खान को अपना आदर्श माना और उन्हीं के हिसाब से डांस करते-करते अपने आप को संवार लिया था।

श्रीदेवी की माधुरी दीक्षित को लेकर हुई थी अनबन

यहां हम आपको बता दें कि श्रीदेवी की सरोज खान से माधुरी दीक्षित को लेकर अनुबन भी हो हो गई थी। श्रीदेवी ने सरोज खान को माधुरी दीक्षित पर पूरा ध्यान देने के आरोप भी लगाए थे लेकिन बाद में सरोज खान ने श्रीदेवी पर भी ध्यान देना शुरू कर दिया था।‌ सरोज खान ने बताया था कि एक बार श्रीदेवी कोरियोग्राफर के पास आकर भड़क गई थीं और बोलीं कि जैसे वह माधुरी को नचाती हैं वैसे उन्हें नहीं नचातीं हैं।

इस पर सरोज खान ने कहा था ‘वह मुझे समर्पित कर देती है खुद को। इसलिए वह मुझे अच्छे से समझ पाती है। श्रीदेवी का कहना था कि मास्टरजी सिर्फ माधुरी के गानों पर ही ध्यान देती हैं। हालांकि सरोज खान ने श्रीदेवी के साथ भी एक हिट सॉन्ग दिया था, लम्हे फिल्म का मोरनी बागा मां बोले, इस गाने को दर्शकों ने बहुत पसंद किया था। तब जाकर श्रीदेवी सरोज खान से खुश हुई थीं। सरोज खान ने बताया था कि माधुरी दीक्षित उनके दिल के बहुत करीब हैं और उन पर बहुत ट्रस्ट करती हैं। उन्होंने कहा था माधुरी ने मेरे काम पर ऐतबार किया इसलिए ही वह आज सबसे ऊपर है।‌

करियर में खराब दौर, सलमान से मांगा था काम

अपने लंबे फिल्मी करियर में कई मशहूर अभिनेत्रियों को उंगलियों पर नचाने वाली सरोज खान के पास आखिरकार वर्ष 2000 के बाद फिल्म इंडस्ट्रीज में काम मिलना धीरे-धीरे कम होता चला गया। इसका सबसे बड़ा कारण यह रहा माधुरी दीक्षित और श्रीदेवी के करियर ढलान पर आते ही नई हीरोइनों ने सरोज खान से डांस करवाना उचित नहीं समझा। सरोज खान ने बतौर कोरियोग्राफर इस इंडस्ट्री में खूब काम किया। नई सदी उनके लिए काम के लिहाज से ठीक नहीं थी। एक दौर तो ऐसा आया जब कई साल तक उनके पास एक फिल्म भी नहीं थी।

अपने आखिरी दिनों में भी वो काम लगभग छोड़ चुकी थीं। ‘कलंक’ का आखिरी गाना फिल्माए भी उन्हें लगभग तीन साल हो गए थे। एक इंटरव्यू के दौरान सरोज खान ने बताया था कि जब उनके पास काम नहीं था तो सलमान खान ने उन्हें घर बुलाकर वादा किया था कि वो उनके अगले प्रोजेक्ट में काम करेंगी। सलमान ने अपने वादे के मुताबिक उन्हें काम भी दिया था। सरोज खान अब हमारे बीच में नहीं रहीं, लेकिन उनसे जुड़ी कई यादेंं हैं, जिन्हें सिनेमा के डांस प्रशंसक याद कर रहे हैं। उनके डांस के लाखों कद्रदान सोशल मीडिया में उन्हें श्रद्धांजलि दे रहे हैं।

शंभू नाथ गौतम, वरिष्ठ पत्रकार