आनंदपाल की फेसबुक प्रोफाइल ने खोले तस्करी पर भाजपा की चुप्पी के राज

सिरोही पुलिस गिरफ्त में पुलिस-तस्कर गठबंधन के मुख्य अभियुक्त आनंदपाल सिंह।
सिरोही पुलिस गिरफ्त में पुलिस-तस्कर गठबंधन के मुख्य अभियुक्त आनंदपाल सिंह।

सबगुरु न्यूज-सिरोही। राजस्थान के सिरोही जिले में पुलिस तस्कर सांठगांठ ने राज्य पुलिस की साख पर ही नहीं बल्कि गृह मंत्रालय संभाल रहे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की भी विफलता को उजागर किया था। इसके बाद भी भाजपा प्रदेशाध्यक्ष से लेकर सिरोही भाजपा के जिलाध्यक्ष व अन्य नेताओं ने इस प्रकरण पर मुख्यमंत्री को नहीं घेरा।https://www.sabguru.com/silence-of-politicians-on-police-bootlegging-coilision-arise-question-in-publice-domain/

गुजरात मि डीसा की होटल में पकड़े गए आनंदपाल सिंह के सीसीटीवी फुटेज की क्लिप।
गुजरात मि डीसा की होटल में पकड़े गए आनंदपाल सिंह के सीसीटीवी फुटेज की क्लिप।

इसके पीछे की वजह आनंदपाल की गिरफ्तारी के बाद उसके सोशल मीडिया पर चल रही उसके फेसबुक अकाउंट के फोटो से उजागर हो सकती है। आनंदपालसिंह प्रदेश और जिले के कई भाजपा नेताओं के साथ तस्वीरों में नजर आ रहे हैं। कुछ तस्वीरों में गले में भाजपा का दुपट्टा डाले हुए प्रचार करते हुए नजर आ रहे हैं। ये तस्वीरें पुलिस तस्कर गठबंधन के साथ तस्कर-राजनीतिक गठजोड़ की ओर भी इशारा कर रही है।

डीसा में आंनदपाल सिंह को पकड़ने के दौरान सीसीटीवी फुटेज में कैद युवक जिसे सिरोही का ही नेता होने का कयास लगाया जा रहा है।
डीसा में आंनदपाल सिंह को पकड़ने के दौरान सीसीटीवी फुटेज में कैद युवक जिसे सिरोही का ही नेता होने का कयास लगाया जा रहा है।

कौन है सीसीटीवी में नजर आ रहा युवक?

सोशल मीडिया में जिस होटल से आनन्दपालसिंह को गिरफ्तार किया गया था, उसके सीसीटीवी कैमरे का फुटेज भी वायरल है। इसमें पुलिस आनन्दपालसिंह को गिरफ्तार करके लाती हुई दिख रही है। होटल के गलियारे के इस सीसीटीवी फुटेज में सबसे पीछे एक युवक दिखाई दे रहा है।

क्या ये युवक वर्तमान जिला परिषद या पंचायत समिति चुनाव का प्रत्याशी है। है तो इनके साथ आनंदपालसिंह या आनन्दपालसिंह के साथ ये क्या कर रहा था। क्या वाकई आनन्दपालसिंह सिरोही के जिला परिषद चुनाव और पंचायत समिति चुनावों में प्रत्याशियों की बाड़ाबंदी का हिस्सा था या योजनाकार था। ये सब पुलिस जांच में ही खुल पाएगा।

सिरोही में पकड़े गए शराब तस्करी के प्रमुख अभियुक्त की भाजपा को उपचुनाव में जिताने के बाद के जश्न मि तस्वीर।
सिरोही में पकड़े गए शराब तस्करी के प्रमुख अभियुक्त की भाजपा को उपचुनाव में जिताने के बाद के जश्न मि तस्वीर।

फेसबुक प्रोफाइल खोल रहा है भाजपा की चुप्पी का राज

आनन्दपालसिंह की गिरफ्तारी के बाद एकाएक उसकी फेसबुक प्रोफाइल सोशल मीडिया में चर्चा में आ गई। राज्य को हिला देने वाले पुलिस-तस्कर गठबंधन के इस मामले में सबगुरु न्यूज ने भी जब आनन्दपालसिंह की फेसबुक प्रोफाइल खंगाली तो उसमें जिले के कई भाजपा नेताओं के साथ उसकी फोटोज नजर आ गई।

सिरोही वार्ड 7 के उपचुनाव में भाजपा प्रत्याशी जीतने पर आंनदपाल सिंह के साथ जश्न मनाते भाजपा जिला नेता
सिरोही वार्ड 7 के उपचुनाव में भाजपा प्रत्याशी जीतने पर आंनदपाल सिंह के साथ जश्न मनाते भाजपा नेता

फेसबुल वाल पर जिला स्तर पर पूर्व गोपालन राज्य मत्री ओटाराम देवासी के अलावा पूर्व जिलाध्यक्ष लुम्बाराम चौधरी, तत्कालीन जिला उप प्रमुख कानाराम चौधरी, वर्तमान में सिंदरथ क्षेत्र से पंचायत समिति मे भाजपा के उम्मीदवार जीतू गर्ग की तस्वीरें पोस्ट हैं तो सोशल मीडिया पर भाजपा के ही कार्यक्रमों में पूर्व मंत्री राजेन्द्र राठौड़ और भाजपा प्रदेश संगठन महामंत्री चंद्रशेखर के साथ की तस्वीरें भी वायरल हैं।

आनंदपाल सिंह की वाल पर टैग की गई सिरोही भाजयुमो कार्यकारिणी की 2015 को सूची।
आनंदपाल सिंह की वाल पर टैग की गई सिरोही भाजयुमो कार्यकारिणी की 2015 को सूची।

दो बार भाजयुमो पदाधिकारी

आनंदपालसिंह की फेसबुक प्रोफाइल बता रही है कि वो जिले में दो बार भाजयुमो के पदाधिकारी रहे हैं। एक पोस्ट 7 सितम्बर 2017 की है। इसमें वो खबर शेयर की गई है, जिसमें उसके जिला उपाध्यक्ष का स्वागत की खबर थी। इसी तरह जीतू गर्ग द्वारा 29 नवम्बर 2015 की एक पोस्ट भी है।

आनंदपालसिंह की फेसबुक वाल पर टैग की गई 2017 में सिरोही भाजपा के अनुषांगिक सन्गठन के उपाध्यक्ष बनने की खबर।
आनंदपालसिंह की फेसबुक वाल पर टैग की गई 2017 में सिरोही भाजपा के अनुषांगिक सन्गठन के उपाध्यक्ष बनने की खबर।

इसमें तत्कालीन भाजयुमो की कार्यकारिणी में वो एससीएसटी को स्थान नहीं देने पर कोसते नजर आ रहे हैं, इस पोस्ट के साथ तत्कालीन कार्यकारिणी की विज्ञप्ति की फोटो भी है। इसमें जिला मंत्री के पद पर आनन्दपालसिंह का नाम नजर आ रहा है।

सबगुरु न्यूज ने इस नेक्सस के उजागर करने के लिये मई जून में एक के बाद एक 26 से ज्यादा खबरें प्रकाशित की थी, जिसमे सिरोही पुलिस और शराब तस्करों के गठबंधन को परत दर परत उजागर किया था।

एक बोतल शराब पकडऩे की कार्रवाई SP के निर्देश पर तो जखीरा का छूटना किसके निर्देश पर?

सिरोही पुलिस को सड़क पर मिल गया मुनाफे वाला ‘माल’, सजगता, इत्तेफाक या कुछ और?

डूंगरपुर और बडोदरा के शराब तस्करों का सिरोही में जमावड़ा, पुलिस कितनी जवाबदेह!

शराब तस्करी: किसने पूछा कि ‘हाइवे तुम्हारे भी लगता है क्या?’

इस सांसद ने सिरोही SP पर साधा सीधे निशाना, निलंबित कांस्टेबल भी आया सामने

शराब तस्करी का ऐसा नेटवर्क की भूल जाओगे ‘डीएस’ को, संदेह से बाहर नहीं पुलिस

इम्पेक्ट : सिरोही में पुलिस-तस्कर गठबंधन में डीआईजी करेंगे जांच

पुलिस-तस्कर गठजोड़: ‘तस्करीनीतिक’ रूप से ‘लाइन’ क्लियरेंस के लिए क्यों जरूरी है सिरोही का ये थाना?

पुलिस-तस्कर गठजोड़ की जांच के लिए सिरोही पहुंचे DIG और SOG टीम

पुलिस-तस्कर गठजोड़: अपनी कार्रवाइयों से खुद को कठघरे में खड़ी कर रही सरूपगंज पुलिस