लोढ़ा समर्थकों के वायरल संदेश को बोराणा और परिहार ने बताया मिथ्या, कहा खेताराम कांग्रेसी है

Sirohi congress, sanyam lodha, prarambh dewasi
Khetaram dewasi with harish parihar and amaran borana sirohi

सबगुरु न्यूज-सिरोही। कांग्रेस के जिला सचिव हरीश परिहार एवम पूर्व जिला प्रमुख आराम बोराणा ने सोशल मीडिया पर लोढा समर्थकों द्वारा वायरल फोटोज में उनके साथ खड़े खेताराम को कांग्रेसी होने का दावा किया है। उन्होंने सबगुरु न्यूज को बताया कि जिला युवक कांग्रेस की उनकी कार्यकारिणी में जिला 2010 तक जिला सचिव रह चुका है। लेकिन शेष तस्वीरों में दिख रहे लोगों के कांग्रेस में होने या नहीं होने तथा उनके विरोध प्रदर्शन में किसके साथ आने पर इन्होंने अनभिज्ञता जाहिर की है।
कांग्रेस के ही एक गुट के आधा दर्जन से ज्यादा नेताओं द्वारा मंगलवार को कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव एवं राजस्थान सहप्रभारी विवेक बंसल के सिरोही आगमन पर पूर्व विधायक संयम लोढा की कार्य प्रणाली और उनके समर्थक जीवाराम आर्य की जिलाध्यक्ष के रूप में नियुक्ति पर विरोध जताया था। इसके बाद
लोढा समर्थकों ने इस विरोध में शामिल कुछ लोगों के भाजपा  से संबंधित होने की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल की थी।

जिन समूहों में ये तस्वीरें वायरल की गई उनमें हरिश परिहार समेत लोढा विरोधी खेमे के नेता और उनके समर्थक भी थे, लेकिन किसी ने लोढा समर्थकों द्वारा वायरल की गई इन तस्वीरों पर अपनी प्रतिक्रिया जताने की जहमत नहीं जताई। परिहार ने बताया कि उन्हें इन तस्वीरों का पता था, लेकिन उनके पास समय नहीं होने के कारण वह इन पर प्रतिक्रिया नहीं दे पाए। इसी तरह अनाराम बोराणा ने बताया कि वे सोशल मीडिया पर एक्टिव नहीं हैं, लेकिन जो एक्टिव हैं उन्हें इस तरह के भ्रम फैलाने वाले संदेशों पर अपनी प्रतिक्रिया देनी चाहिए।

दोनों ने कहा कि ओटाराम देवासी देवसी समाज के सम्मानीय व्यक्ति हैं। खेताराम देवसी की तस्वीरें ओटाराम देवासी के साथ होने से वे ओटाराम देवासी या भाजपा समर्थक नहीं हो जाते। उन्होंने आरोप लगाया कि सिरोही के नवनियुक्त ब्लॉक अध्यक्ष प्रकाश पुरोहित की प्रवीण तोगड़िया और भाजपा के कई नेताओं के साथ फोटो है, ऐसे में उन्हें भी भाजपाई कहा जाना चाहिए। बोराणा ने ये भी कहा कि कालंद्री के जिस समारोह में सचिन पायलट आये थे उसमें अधिसंख्य भाजपा के लोग थे। बोराणा ने कहा कि इस तरह की छोटी हरकत हम करना नहीं  चाहते अन्यथा उनके पास भी ऐसे बहुत से मुद्दे हैं।

दोनो ने ही खेताराम देवासी के अलावा शेष वायरल फ़ोटो में नजर आ रहे लोगों के कांग्रेस का होने या नहीं होने की तस्दीक नहीं की और अनभिज्ञता जताई  है। उनका कहना था आबूरोड के भाजपा शिवसेना के लोगों के इसमें शामिल होने या नहीं होने के दावे पर आबूरोड से शामिल नेताओं को प्रतिक्रिया देनी चाहिए।