भोपाल | फिल्मो के बाद अब असल ज़िंदगी में भी पुलिस की हिरासत में युवक की मौत

boy died in police station bhopal madhya pradesh
boy died in police station bhopal madhya pradesh

भोपाल | मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में एक युवक की पुलिस हिरासत में मौत के बाद परिजन ने स्थानीय बैरागढ़ पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए हैं।

मंगलवार और बुधवार की दरमियानी रात इस युवक शिवम मिश्रा की मौत के बाद परिजन तड़के अस्पताल पहुंचे और पुलिस पर गंभीर आरोप लगाते हुए दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की। मामले की जानकारी मीडिया में आते ही पुलिस के आला अधिकारी और भारतीय जनता पार्टी के स्थानीय विधायक रामेश्वर शर्मा भी अस्पताल पहुंच गए। पुलिस युवक का पोस्टमार्टम करा रही है। हंगामे की आशंका के मद्देनजर अस्पताल परिसर में भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई है।

युवक के परिजन ने आरोप लगाया कि शिवम मिश्रा कल रात अपने दोस्त गोविंद शर्मा के साथ अपनी कार से कहीं जा रहा था। इसी दौरान रास्ते में बीआरटीएस कॉरिडोर की रैलिंग से उनकी कार टकरा गई। परिजन का दावा है कि दोनों को कोई चोट नहीं लगी, लेकिन पास ही खड़ा डायल 100 वाहन दोनों को पुलिस थाने ले गया और हिरासत में उनके साथ बुरी तरह मारपीट की गई।

इसी बीच स्थिति बिगड़ने पर पुलिस शिवम को अस्पताल ले गई, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। उसका दूसरा साथी गंभीर स्थिति में अस्पताल में भर्ती है।

बताया जा रहा है कि मृत युवक के पिता स्वयं पुलिस में हैं और साइबर सेल में पदस्थ हैं। पुलिस अधीक्षक (उत्तर) शैलेंद्र चौहान ने कहा कि परिजन के आरोप गंभीर हैं। आरोपों की निष्पक्ष जांच कराई जाएगी। अगर कोई दोषी पाया गया तो उसके खिलाफ विधिवत् कार्रवाई होगी। मृतक युवक का डॉक्टरों के पैनल से पोस्टमार्टम कराया जा रहा है।