दस रुपए के सिक्कों ने ली जान, किशोर को पीटकर मार डाला

Boy killed by shopkeeper for not accepting the Rs 10 coins
Boy killed by shopkeeper for not accepting the Rs 10 coins

संभल। उत्तर प्रदेश के संभल में चलन से बाहर हो जाने की अफवाहों के चलते दस रूपए के सिक्के को लेकर जिद पर अडे दबंग दुकानदार ने किशोर ग्राहक को इतना निर्ममतापूर्वक पीटा की उसकी उपचार के दौरान अस्पताल में मौत हो गई।

पुलिस सूत्रों ने बताया कि संभल में दस रूपए के सिक्के नहीं लेने पर दबंग दुकानदार द्वारा किशोर को पीटकर मौत के घात उतारने का मामला सामने आया है। पुलिस ने तहरीर मिलने पर आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

सीओ संभल ओमकार सिंह ने मंगलवार को बताया कि पहले दुकानदार के खिलाफ परिजनों ने बंधक बनाकर मारपीट करने का मामला दर्ज करवाया था, लेकिन बाद में इलाज के दौरान बच्चे की मौत हो जाने पर घटना को हत्या में बदल कर शीघ्र कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

यह घटना कुढ़फतेहगढ़ थाना क्षेत्र के चढ़रौया गांव निवासी पप्पू का पन्द्रह वर्षीय पुत्र सोनू पड़ोस के दुकानदार सुनील से सामान लेने गया था। सामान दस रूपए का हुआ था। जिस पर आरोपी दुकानदार सुनील ने वापस नब्बे रुपए दस दस के सिक्के के रूप में किए। सोनू ने इतने सिक्के लेने से मना कर दिया। इसी बात को लेकर उसकी और दुकानदार में बहस हो गई।

उन्होंने बताया कि दुकानदार ने अपने परिजनों की मदद से सोनू को दुकान में बंधक बना लिया और जमकर पीटा। उसकी चीखपुकार सुनकर पड़ोसियों ने उसे जैसे तैसे बचाया और उसे परिवार परिवार वालों के सुपर्द किया। मारपीट में एक डंडा उसके सिर पर लगा गया था, जिससे उसकी हालत बिगड़ गई।

परिजन किशोर को बेहोशी की हालत में रामपुर के अस्प्ताल ले गए,लेकिन बाद में उसे मुरादाबाद रेफर किया गया। हालत में सुधार न होने की वजह से उसे परिजनों ने प्राइवेट अस्पताल में भी भर्ती करवाया, लेकिन कल शाम इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। पुलिस ने पहले मारपीट में दर्ज मामले को हत्या के मामले में बदल कर विवेचना शुरू कर दी है।