योगी सरकार ने डॉ भीमराव अम्बेडकर के नाम में जोडा ‘रामजी’

BR Ambedkar: 'Ramji' to be part of Ambedkar's name
BR Ambedkar: ‘Ramji’ to be part of Ambedkar’s name

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार ने सभी सरकारी कार्यालयों में डॉ अम्बेडकर की फोटो टांगने के निर्देश के बाद अब उनका पूरा नाम डॉ भीमराव रामजी अम्बेडकर लिखने का आदेश दिया है।

सरकारी सूत्रों ने गुरुवार को बताया कि अभिलेखों में अब डॉ अम्बेडकर का पूरा नाम डॉ भीमराव रामजी अम्बेडकर लिखा जाएगा। उन्होंने बताया कि इस आशय के निर्देश जारी कर दिए गए हैं। डॉ अम्बेडकर के पिताजी का नाम रामजी अम्बेडकर था और वह अपने नाम के साथ पिताजी का नाम भी लिखते थे।

उन्होंने बताया कि डॉ अम्बेडकर स्वयं अपना नाम डॉ भीमराव रामजी अम्बेडकर लिखते थे। इसलिए सरकार ने तय किया है कि जो व्यक्ति जिस तरह अपना नाम लिखता है, उसका नाम उसी तरह लिखा जाना चाहिए।

गौरतलब है कि इससे पहले योगी सरकार ने सभी सरकारी और अर्द्धसरकारी विभागों के सभी कार्यालयों में डॉ अम्बेेडकर की फोटो लगाने के निर्देश दिए थे।

उधर, सरकार के इस आदेश को लेकर विपक्ष ने हमला बोलते हुए कहा है कि यह दलितों को लुभाने की एक कोशिश मात्र है। समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी सरकार ने दलितों के लिये कुछ भी नहीं किया है, लेकिन दलितों के आदर्श डॉ भीमराव अम्बेडकर के नाम पर उनका वोट हासिल करना चाहती है। उत्तम ने कहा कि दलित इस बहकावे में आने वाले नहीं हैं। दलितों को भाजपा के बारे में सब पता है।