सोशल मीडिया में वीडियो पोस्ट करने वाला बीएसएफ क्लर्क बर्खास्त

BSF clerk Navratan Choudhary Who posted videos on social media against officers dismissed from service
BSF clerk Navratan Choudhary Who posted videos on social media against officers dismissed from service

भुज। बीएसएफ के अधिकारियों पर भ्रष्टाचार, मातहत जवानों से काम कराने, शराब बेचने जैसे गंभीर आरोप लगाते हुए सोशल मीडिया पर वीडियो पोस्ट करने वाले बल के क्लर्क नवरत्न चौधरी को तत्काल प्रभाव से बर्खास्त कर दिया गया है।

गुजरात के कच्छ जिले के गांधीधाम में बीएसएफ के कार्यालय में बतौर क्लर्क (हेड कांस्टेबल रैंक) पदस्थापित चौधरी ने पिछले साल जनवरी में ऐसे कई वीडियो पोस्ट किए थे। उनके ये वीडियो जम्मू के बीएसएफ जवान तेज बहादुर यादव की ओर से जवानों को दिए जाने वाले खाने की गुणवत्ता पर सवाल लगाते हुए सोशल मीडिया में पोस्ट किए गए वीडियो के बाद आए थे। इनके चलते अधिकारियों को स्पष्टीकरण देना पड़ा था।

बीएसएफ के डीआईजी स्तर के एक अधिकारी ने रविवार को बताया कि चौधरी, जो इन वीडियो को पोस्ट करने के बाद छुट्टी पर चले गए थे, ने मामले की जांच के दौरान अपने आरोपों की पुष्टि के लिए कोई सबूत पेश नहीं किया। वह बार बार बुलाने पर भी नहीं आए। उन्हें उनका पक्ष सही ढंग से रखने के लिए हर तरह के मौके दिए गए।

उनके घर राजस्थान के बीकानेर जिले में भी बल के दूत भेजे गए पर वह नहीं आए। उन्होंने यह भी कहा कि उन्हें जो भी कहना था वह कह चुके हैं। बल के नियम के अनुरूप उन्हें गंभीर अनुशासनहीनता के लिए बर्खास्त कर दिया गया है।

ज्ञातव्य है कि चौधरी ने एक वीडियो में कुछ लोगों को बोरियां लिए हुए दिखाया था और दावा किया था कि इनमें शराब की बोतलें भरी थी जो बीएसएफ के जवानों और अधिकारियों के लिए मिलती है पर इन्हें शराबबंदी वाले गुजरात में अन्य स्थानों पर गैरकानूनी तरीके से अधिकारी बेच देते हैं। गौरतलब है कि इससे पहले तेज बहादुर यादव को भी पिछले साल अप्रेल में बर्खास्त कर दिया गया था।