पूरी तरह असंतुलित है बजट : सतीश पूनियां

उदयपुर। राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 24 फरवरी को जो बजट पेश किया वह पूरी तरह असन्तुलित है।

पूनिया ने आज यहां पत्रकारों से कहा कि 90 प्रतिशत घोषणाएं हैं, केवल 10 प्रतिशत संसाधनों पर बात हुई है। राज्य का यह बजट कट, काॅपी पेस्ट जैसा है। यह बड़े घाटे का बजट, इतना सारा कर्जा और प्राप्तियों के नाम पर न्यूनता और घोषणाओं का अम्बार है। पिछले बजट की घोषणाओं को देखें तो 28 जिलों में 61 घोषणाएं अभी कागजों में हैं।

उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने 2018 के विधानसभा चुनावों के दौरान जनसभाओं में सम्पूर्ण किसान कर्जमाफी की बात कही थी, लेकिन प्रदेश के 59 लाख किसान 99 हजार करोड़ के कर्जामाफी का अब भी इंतजार कर रहे हैं। कर्जमाफी नहीं होने से हनुमानगढ़, श्रीगंगानगर सहित कई जिलों के दर्जनों किसान आत्महत्या कर चुके हैं।

पूनियां ने कहा कि भर्तियों को लेकर 17 से ज्यादा ऐसे मामले हैं जो या तो टेबलों पर हैं या न्यायालयों में लम्बित हैं। जनविरोधी गहलोत सरकार के कुशासन में परीक्षाएं स्थगित हो रही हैं, पर्चे लीक हो रहे हैं, इसको लेकर मैं सदन में भी कह चुका हूँ कि यह सरकार वीक है और पर्चे लीक हो रहे हैं।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री गहलोत आमजन, महिलाओं एवं बच्चियों को सुरक्षा देने में पूरी तरह विफल हो चुके हैं। थानों के बाहर पंचलाइन लिखी होती है ‘आमजन में विश्वास-अपराधियों में भय’, लेकिन राजस्थान में अब यह पंचलाइन उल्टी हो गई है ‘अपराधियों में तो भरोसा पैदा हो गया और आमजन में भय पैदा हो गया।’

पूनियां ने कहा कि नेशनल क्राइम रिपोर्ट ब्यूरो के आंकड़ों के मुताबिक शांतिपूर्ण प्रदेश राजस्थान आज सर्वाधिक अपराधग्रस्त राज्यों में शुमार हो गया है। छह लाख 14 हजार एफआईआर दर्ज हुई हैं, लेकिन मुख्यमंत्री कहते हैं कि हमने एफआईआर को प्रोत्साहित किया है, इसलिए ज्यादा हो गई। मुख्यमंत्री बताएं कि प्रदेश में दुष्कर्म, गैंगरेप, लूट, हत्या, डकैती की वारदातें बढ़ रही हैं। राज्य में अराजकता का माहौल है।

उम्मीदवारों के चयन को लेकर पूछे गये सवाल के जवाब में पूनियां ने कहा कि भाजपा ने पूरी तैयारी कर ली है। उम्मीदवारों को लेकर पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने सम्बन्धित विधानसभा क्षेत्रों में आमजन एवं कार्यकर्ताओं से रायशुमारी की है, साथ ही प्रदेश नेतृत्व भी अपने स्तर पर इस बारे में जानकारी जुटाई है, जिसके बारे में हमने केन्द्रीय नेतृत्व को अवगत करा दिया है। भाजपा कार्यकर्ताओं एवं आमजन की राय पर जिताऊ उम्मीदवारों को मौका देगी। सभी विधानसभा क्षेत्रों में पार्टी कार्यकर्ता, पदाधिकारी और मोर्चे जमीनी स्तर पर सक्रियता के साथ कार्य कर रहे हैं।

पूनियां के साथ प्रदेश उपाध्यक्ष एवं सांसद सीपी जोशी, हेमराज मीणा, प्रदेश महामंत्री सुशील कटारा, भाजयुमो प्रदेशाध्यक्ष हिमांशु शर्मा, उदयपुर ग्रामीण जिलाध्यक्ष भंवर सिंह पंवार, विधायक फूल सिंह मीणा, उदयपुर जिला प्रमुख ममता कंवर इत्यादि जनप्रतिनिधि एवं पदाधिकारी मौजूद रहे।