बूंदी : 9 वर्षीय सारांश को कलक्टर रेणु जयपाल ने दिया प्रमाण पत्र

बूंदी। बूंदी शहर के 9 वर्षीय बालक सारांश माहेश्वरी को सबसे कम उम्र में शिव तांडव स्रोत व सबसे कम समय में अधिकतम गति से बोल पाने का वर्ल्ड रिकॉर्ड बुक में नाम दर्ज होने के बाद मंगलवार को कलक्टर रेणु जयपाल ने प्रमाण पत्र प्रदान कर हौसला बढ़ाया।

शहर के एक रिसोर्ट में आयोजित कार्यक्रम में यंग एचीवर की श्रेणी में सारांश ने मात्र 1 मिनट 25 सेकण्ड में शिव तांडव स्रोत बोलकर अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया था। जिसे गोल्डन बुक ऑफ वल्र्ड रिकॉर्ड के अधिकारियों ने लाइव देखा। साथ ही रिकॉर्ड बनने की मौखिक पुष्टि की गई।

जांच प्रक्रिया पूरी होने के बाद कलक्टर ने छात्र को प्रमाण प्रदान किया। सारांश केंद्रीय विद्यालय कक्षा-4 का छात्र है। वो तीन वर्ष की उम्र से ही हनुमान चालीसा बोल रहा है। इसके बाद बालक छोटी सी उम्र में ही अब तक शिव स्तुति, राम स्तुति, आरंभ हे प्रचड, बाहुबली फिल्म का ‘जय जयकारा’ आदि कई भक्ति गीत याद कर प्रस्तुतियां दे चुका।