जयपुर में कारोबारी को हनी ट्रेप में फांसा, फिरौती मिलने पर भी की हत्या

जयपुर। राजधानी जयपुर के एक कारोबारी युवक का अपहरण कर फिरोती मांगने और हत्या कर उसका शव सूटकेस में बंद कर फेंकने के आरोप में एक महिला सहित तीन लोगों को अरेस्ट किया है।

अतिरिक्त पुलिस आयुक्त प्रफूल्ल कुमार ने शुक्रवार को बताया कि आरोपियों में शामिल महिला के कारोबारी दुष्यंत से नाजायज संबंध थे और गुरुवार को उसने अपने दो साथियों के साथ उसका अपहरण कर 10 लाख रुपए की फिरौती के लिए उसकी हत्या कर शव को सूटकेस में बंद कर आमेर थाना क्षेत्र में फेंक दिया था।

उन्होंने बताया कि गिरफ्तार आरोपी प्रिया सेठ (27) बजाज नगर स्थित अनिता कॉलोनी में ईडन गार्डन अपार्टमेंट में फ्लैट में रहती थी। उसके खिलाफ पहले भी जयपुर के पुलिस थानों में ब्लेकमेलिंग कर रुपए एेंठने, एटीएम उखाड़ने, ठगी के मुकदमें दर्ज है।

उसके सहयोगी दीक्षांत कामरा (20)और लक्ष्य वालिया (21)मालवीय नगर जयपुर में तनीष अपार्टमेंट में रहता है। उन्होंने बताया कि दीक्षांत और प्रिया खुद को पति-पत्नी बताकर करीब डेढ़ महिने से ईडन गार्डन, अनिता कॉलोनी में रह रहे थे।

उन्होंने बताया कि झोटवाड़ा निवासी 28 वर्षीय दुष्यंत शर्मा बिल्डिंग मेटेरियल का कारोबार करता था। तीन चार माह पहले ही दुष्यंत का प्रिया सेठ से संपर्क हुआ था। तब से उनके बीच व्हाट‌सएप कॉलिंग और मैसेज के जरिए बातचीत होने लगी। इसी बीच दुष्यंत का प्रिया के फ्लैट पर आना जाना शुुरु हो गया जहां दुष्यंत हनी ट्रेप में उलझ गया।

उन्होंने बताया कि दुष्यंत दो मई की रात अपनी कार से प्रिया सेठ के घर पहुंचा। जहां साजिश के अनुसार प्रिया ने दुष्यंत को ब्लेकमेलिंग करते हुए उससे 10 लाख रुपए की मांग की और उसके दोनों साथियों ने उसे टॉर्चर किया। जिस पर दुष्यंत ने कल सवेरे अपने पिता को फोन कर अपना अपहरण होने और छोड़ने की एवज में 10 लाख रुपए मांगने की बात कही।

इस पर उसके पिता ने दुष्यंत के खाते में करीब डेढ़ लाख रुपए जमा करवा दिए। इसके बाद प्रिया ने दुष्यंत के पिता को फोन कर धमकियां देकर और फिरौती मांगी। तब उन्होंने झोटवाड़ा थाने पहुंचकर अपहरण और फिरोती की सूचना दी।

उन्होंने बताया कि खाते में रुपए जमा होने का मोबाइल पर मैसेज आने के बाद प्रिया और उसके साथियों ने इलेक्ट्रीक केबल से गला घोटकर दुष्यंत की हत्या कर दी और लाश को एक बड़े सूटकेस में बंद कर आमेर के नई माता मंदिर के पास सड़क पर फेंक दिया। उन्होंने बताया कि लाश को फेंकने से पहले प्रिया ने लक्ष्मी मंदिर तिराहे पर स्थित बैंक के एटीएम से बीस बीस हजार रुपए निकाले।

उन्होंने बताया कि कल शाम दुष्यंत के एक मित्र की जानकारी पर पुलिस ने बजाज नगर स्थित प्रिया सेठ के फ्लैट पर पहुंची। वहां कमरे पर ताला लगा था। पुलिस ने सादावर्दी में थानाप्रभारी गुरुभूपेंद्र और उनकी टीम को वहां तैनात कर दिया और देर शाम तीनों आरोपियों के वहां पहुंचते ही पुलिस ने उहें दबोच लिया।