कांग्रेस की अनुमति के बिना मैं कुछ नहीं कर सकता : कुमारस्वामी

कांग्रेस की अनुमति के बिना में कुछ नहीं कर सकता: कुमारस्वामी
कांग्रेस की अनुमति के बिना में कुछ नहीं कर सकता: कुमारस्वामी

नई दिल्ली। कर्नाटक में कांग्रेस के समर्थन से गठबंधन सरकार बनाने के पांचवें दिन मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने आज कहा कि वह कांग्रेस की दया पर टिके हैं और उसकी अनुमति से ही कुछ कर सकते हैं।

कुमारस्वामी का यह बयान ऐसे समय आया है जब वह आज शाम प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से भेंट करने के लिए दिल्ली आए हैं और अभी तक उन्होंने अपने मंत्रिमंडल का गठन नहीं किया है।

उन्होंने कर्नाटक भवन में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि वह राज्य में विकास कार्यों के लिए जिम्मेदार ज़रूर हैं लेकिन कांग्रेस की दया पर ही टिके हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें मुख्यमंत्री के रूप में अपना कार्य करना है और वह कांग्रेस के नेताओं की अनुमति के बगैर कोई काम नहीं कर सकते हैं क्योंकि कांग्रेस ने उन्हें समर्थन दिया है।

जनता दल सेकुलर के कुमारस्वामी ने 23 मई को कांग्रेस के समर्थन से मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी जबकि कांग्रेस के नेता जी परमेश्वरन को राज्य का उपमुख्यमंत्री बनाया गया है। लेकिन अभी तक मंत्रिमंडल में दोनों दलों के मंत्रियों की संख्या और विभागों के बंटवारे को लेकर कुमार स्वामी और कांग्रेस के नेताओं में मतभेद सुलभ नहीं पाए हैं।

कांग्रेस ने कुमारस्वामी को मुख्यमंत्री का पद देने की घोषणा के बाद पर्दे के पीछे से दो उपमुख्यमंत्री बनाने की मांग करके उनके लिए असहज स्थिति पैदा कर दी थी। बाद में किसी तरह से एक उपमुख्यमंत्री बनाने पर समझौता हुआ था।

इसी प्रकार से कांग्रेस ने मंत्रिमंडल में जद एस के मंत्रियों की तुलना में अधिक मंत्री बनाने का दबाव बनाया हुआ है। कुमारस्वामी ने इसी बीच प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मिलने का समय मांगा था और आज शाम पांच बजे वह मोदी से मिलेंगे।