जौनपुर में टीचर ने दहेज के लिए पत्नी को दिया तीन तलाक, मामला दर्ज

जौनपुर। उत्तर प्रदेश के जौनपुर में एक शिक्षक ने दहेज की भारी भरकम मांग पूरी नहीं होने पर पत्नी को तीन तलाक दे दिया। पत्नी की तहरीर पर पुलिस ने शिक्षक के खिलाफ सुसंगत धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है।

पुलिस ने रविवार को इस मामले की जानकारी देते हुए बताया कि तीन तलाक देने वाला पति शहर के एक डिग्री कॉलेज में अध्यापक है और वह कई स्थानों पर कोचिंग सेंटर भी चलाता है।

नगर कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला आलमखान निवासी जावेद अजीम की पुत्री नाजिया फातमा का विवाह मुस्लिम रीति रिवाज के अनुसार 4 मार्च 2017 को सैफी आलम अनवर पुत्र अनवर निवासी सरायलत़ा बारहदुवरिया थाना कोतवाली जौनपुर के साथ संपन्न हुआ था।

शादी में मायके वालों ने अपनी हैसियत के मुताबिक उपहार स्वरूप काफी सामान वर पक्ष को दिया था। विवाह के कुछ समय बाद ही पति सैफी, ससुर अनवर आलम, सास हिना परवीन और जेठ राशिद आलम दहेज को लेकर तरह-तरह से प्रताड़ित करते हुए ताना देने लगे।

तहरीर में गत 15 मई को नाजिया के ससुराल वालों ने 6 लाख नगद व चार पहिया वाहन की मांग को लेकर उसे मारा पीटा। उसी समय उसके पति सैफी ने नाजिया को तीन तलाक दे दिया। इसके उपरांत पीड़िता ने मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी के समक्ष न्यायालय में प्रार्थना पत्र देकर न्याय की गुहार लगाई।

न्यायालय के आदेश पर कोतवाली पुलिस ने पति व ससुर सास सहित जेठ के विरुद्ध तीन तलाक एवं दहेज निवारण कानून सहित अन्य सुसंगत कानूनों के तहत मामला दर्ज कर लिया। इसकी विवेचना चौकी प्रभारी पुरानी बाजार आफताब आलम को सौंपी गयी है।