नंदीग्राम हत्या मामले में सीबीआई ने 9 लोगों को किया अरेस्ट

कोलकाता। केन्द्रीय जांच ब्यूरो ने शनिवार को पश्चिम बंगाल में चुनाव परिणाम आने के बाद हुई हत्याओं, बलात्कार और अन्य गंभीर अपराधों की जांच के तहत नंदीग्राम हत्या मामले में 11 आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

सूत्रों ने बताया कि पश्चिम बंगाल में दो मई को चुनाव के नतीजे के एक दिन बाद तीन मई को पूर्वी मेदिनीपुर के नंदीग्राम के चिलोग्राम निवासी भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता देबोबता मैती की भीड़ द्वारा की हत्या की जांच कर रहे केंद्रीय जांच ब्यूरो के अधिकारियों ने 11 आरोपियों को पूछताछ के लिए बुलाया और संतोषजनक जवाब नहीं मिलने पर गिरफ्तार कर लिया।

सूत्रों ने बताया कि सभी आरोपी तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ता और समर्थक हैं। आरोप है कि 49 वर्षीय पीडित को तीन मई को घर से बाहर खीच लाया गया और लोगों के समूह ने उनकी बुरी तरह पिटाई की।

सीबीआई ने शुक्रवार को जारी विज्ञप्ति में बताया कि पीड़ित को नंदीग्राम के अस्पताल में भर्ती कराया गया था और बाद में उसे कोलकाता के पीजी अस्पताल (एसएसकेएम) में भेजा गया था जहां 13 मई को उसकी मौत हो गई थी।

सीबीआई और पश्चिम बंगाल पुलिस की अदालत की निगरानी वाले विशेष जांच दल (एसआईटी) ने चुनाव के बाद हुई हिंसा की जांच की कलकत्ता उच्च न्यायालय को सोमवार को रिपोर्ट सौंपी दी है। इस मामले में कलकत्ता उच्च न्यायालय में आठ नवंबर को अगली सुनवाई है।