सीबीआई ने पीएनबी घोटाले में चार लोगों को किया अरेस्ट

CBI arrests four more people in PNB fraud
CBI arrests four more people in PNB fraud

मुंबई। केंद्रीय जांच ब्यूरो ने पंजाब नेशनल बैंक में हुए 12,600 करोड़ रुपए के घोटाला मामले में चार और लोगों को रविवार को गिरफ्तार कर लिया। घोटालेबाजों में नीरव मोदी और उसका मामा मेहुल चौकसी भी शामिल है।

सीबीआई अधिकारियों ने बताया कि गिरफ्तार लोगों में नीरव मोदी समूह की कंपनी के दो कर्मचारी और एक ऑडिटर शामिल है जबकि चौथा व्यक्ति चौकसी की कंपनी गीतांजलि समूह का निदेशक है।

अरबपति जौहरी नीरव मोदी की कपंनी फायरस्टार इंटरनेशनल के दो पूर्व कर्मचारियों मनीष बोसामिया और मिल्टन पांड्या घोटाले के लिए जाली कागजात बनाने का संदेह है जिसके कारण दोनों को गिरफ्तार किया गया।

मुंबई स्थित सीए फर्म संपत और मेहता का एक साझीदार एक ऑडिटर को भी जारी जांच के सिलसिले में गिरफ्तार किया गया है। इसी सिलसिले में एजेंसी ने मेहुल चौकसी की कंपनी गिली इंडिया के तत्कालीन निदेशक ए शिवरमन नायर को भी गिरफ्तार किया है।

हालांकि, सीबीआई अभीतक मुख्य घोटालेबाजों नीरव मोदी और मेहुल चौकसी को पकड़ नहीं सकी है, जिन्होंने धोखाधड़ी के सामने आने से पहले ही जनवरी में भारत छोड़ दिया था।

मोदी और चौकसी पर 2011 में शुरू हुए छह साल की अवधि के लिए अनाधिकृत ऋण प्राप्त करने के लिए पीएनबी में बैंक अधिकारियों के साथ षड्यंत्र करने का संदेह है।