REET परीक्षा 2021 की CBI से जांच कराई जाए : वासुदेव देवनानी

अजमेर। राजस्थान के पूर्व शिक्षा मंत्री वासुदेव देवनानी ने राज्य सरकार एवं माध्यमिक शिक्षा बोर्ड पर राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा (रीट)-2021 आयोजन में पूरी तरह असफलता का आरोप लगाते हुए केन्द्रीय जांच ब्यूरो सीबीआई से जांच की मांग की है।

अजमेर उत्तर विधायक देवनानी ने आज पत्रकारों से बातचीत में दावा किया कि रीट परीक्षा प्रश्नपत्र लीक मामले में कांग्रेसियों का हाथ है इसलिए कांग्रेसियों और आरोपियों की सामने आई फोटो की भी जांच होनी चाहिए। उन्होंने आशंका व्यक्त की कि बत्तीलाल मीणा के संबंध कांग्रेसजनों के साथ साथ बोर्ड तक तो नहीं है।

उन्होंने आरोप लगाया कि रीट का पेपर तीन घंटे पहले बाहर आकर लीक हो गया जिसके कारण पूरी परीक्षा पर प्रश्न चिन्ह लग गया। उन्होंने कहा कि पूरे लीक प्रकरण में पुलिस कांस्टेबलों के नाम भी सामने आए है। सीबीआई जांच में इसका भी पर्दाफाश होना चाहिए।

देवनानी ने कहा कि भाजपा के शासनकाल में भी रीट परीक्षा हुई लेकिन कभी पेपर लीक नहीं हुआ। लेकिन कांग्रेस राज में रीट पेपर लीक का इतना बड़ा प्रकरण सामने आया है कि इसका सीबीआई जांच के बाद ही स्थिति साफ हो सकती है।