CDR Case में रिजवान सिद्दीकी की रिहाई का हाईकोर्ट ने दिया आदेश

CDR Case: Bombay HC orders release of lawyer Rizwan Siddiqui
CDR Case: Bombay HC orders release of lawyer Rizwan Siddiqui

मुंबई। बम्बई उच्च न्यायालय ने काॅल डेडा रिकार्ड (सीडीआर) मामले में गिरफ्तार वकील रिजवान सिद्दीकी की रिहाई का बुधवार को आदेश दिया।

इस मामले में बॉलीवुड की कुछ बड़ी हस्तियों के नाम शामिल हैं। ठाणे की अपराध शाखा पुलिस ने सीडीआर मामले में सिद्दीकी को गिरफ्तार किया था। अदालत ने उसको आज शाम पांच बजे तक रिहा करने का आदेश दिया था। फिल्म उद्योग से कंगना राणावत, नवाजउद्दीन सिद्दीकी और आयेशा श्राफ का नाम इस मामले से जुडा हुआ है।

वकील रिजवान सिद्दीकी को नवाजउद्दीन की पत्नी का काॅल डेटा रिकार्ड के मामले में ठाणे पुलिस ने 16 मार्च को गिरफ्तार किया था। सिद्दीकी की पत्नी ने उच्च न्यायालय में याचिका दाखिल कर कहा था कि उसके पति को बिना नोटिस दिए गैरकानूनी ढंग से गिरफ्तार किया गया और यह कानून का उल्लंघन है।

सीडीआर मामले में 10 मार्च को सिद्दीकी और उसकी पत्नी को ठाणे के अपराध शाखा में बुलाया गया था और इस मामले में पहले से ही गिरफ्तार कुछ लोगों ने पुलिस को बताया था कि सिद्दीकी ने नवाजउद्दीन की पत्नी के मामले में एक निजी डिटेक्टिव से सीडीआर प्राप्त की है। हालांकि पुलिस ने नवाजउद्दीन को बाद में यह कह कर रिहा कर दिया कि इस मामले में उनकी सीधे कोई भूमिका नहीं थी।

ठाणे के पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह ने बताया कि नवाजउद्दीन सिद्दीकी का सीडीआर मामले में कोई सीधा संबंध नहीं है। नवाजउद्इीन को एक गवाह के रूप में बुलाया गया था उन्होंने सहयोग का भरोसा दिया था।