बंगाल सरकार अल्पसंख्यक तुष्टीकरण कार्ड खेल रही है : योगी आदित्यनाथ

बारासात। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को आरोप लगाया कि पश्चिम बंगाल सरकार अल्पसंख्यक तुष्टीकरण कार्ड खेल रही है।

योगी अदित्यनाथ ने उत्तर 24 परगना जिले के बारासात में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा कि पूरे देश में दुर्गा पूजा और मुहर्रम एक ही दिन पड़ा। उत्तर प्रदेश में अधिकारियों ने मुझसे पूछा कि क्या पूजा का समय बदल दिया जाए। मैंने कहा कि पूजा का समय नहीं बदला जाएगा, अगर आप समय परिवर्तित करना चाहते हैं तो मुहर्रम के जुलूस का समय बदल दीजिए।

उन्होंने मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो के दौरान हिंसा भड़काने के लिए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की आलोचना करते हुए कहा कि यह लोकतंत्र की हत्या थी।

उन्हाेंने कहा कि राज्य में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के गुंडों ने मंगलवार को अमित शाह के रोड शो पर हमला किया। यह लोकतंत्र के लिए खतरनाक चेतावनी है और इस बात का संकेत है कि तृणमूल सरकार के दिन गिनती के रह गए हैं।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने कहा कि पश्चिम बंगाल की तरह उत्तर प्रदेश में भी छह चरणों में चुनाव हुआ। सभी चरण शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हुए। वहीं पश्चिम बंगाल में हर चरण में भारी हिंसा की रिपोर्ट मिली। योगी आदित्यनाथ ने बनर्जी पर राज्य में ‘राम’ के नाम पर प्रतिबंध लगाने का आरोप लगाते हुए कहा कि वह गुंडों को बढ़ावा दे रही हैं।

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि तृणमूल सरकार बहुत अलोकतांत्रिक है। मुझे पूरा विश्वास है कि 23 मई के बाद एक राष्ट्रवादी सरकार का गठन होगा जो पश्चिम बंगाल में शासन करेगी।

इससे पहले उत्तरी कोलकाता के फूल बागान इलाके में योगी आदित्यनाथ की चुनावी रैली रद्द कर दी गई। भाजपा सूत्रों ने बताया कि उनका उत्तर 24 परगना के हावड़ा, उत्तरी कोलकाता के फूल बगान और दक्षिण कोलकाता के बेहाला में चुनावी रैलियों को संबोधित करने का कार्यक्रम था। पार्टी सूत्रों ने बताया कि फूल बागान में मंच टूट जाने और मंच तैयार करने वालों की पिटाई के कारण उनकी रैली रद्द कर दी गई।

भाजपा के महासचिव एवं कोलकाता उत्तर के उम्मीदवार राहुल सिन्हा ने बताया कि कल जब मंच का निर्माण किया जा रहा था, श्रमिकों की पिटाई की गई और उन्हें डरा कर भगा दिया गया। इसके बाद मंच को भी तोड़-फोड़ दिया गया।

उन्होंने बताया कि योगी आदित्यनाथ की जनसभा आज अपराह्न दो बजे होने वाली थी। इतने कम समय में मंच को दोबारा तैयार नहीं कराया जा सका लिहाजा उनकी रैली रद्द करनी पड़ी। गौरतलब है कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो के दौरान कल पार्टी समर्थकों और तृणमूल कार्यकर्ताओं के बीच हिंसक झड़पें हुई थी।