अजमेर : महाराणा प्रताप जयंती के उपलक्ष्य में निकली चेतक वाहन रैली

अजमेर। मातृभूमि और धर्म की रक्षा के लिए अपने प्राणों को न्यौछावर कर देने वाले वीर शिरोमणी महाराणा प्रताप की जयंती के उपलक्ष्य में आयोजित तीन दिविसीय शौर्य उत्सव के तहत शुक्रवार को ऐतिहासिक चेतक वाहन रैली का आयोजन किया गया।

अजमेर विकास प्राधिकरण के सौजन्य से आयोजित इस रैली में कई सामाजिक संगठनों व नागरिकों की सहभागिता रही। चेतक वाहन रैली सम्राट पृथ्वीराज चौहान राजकीय महाविद्यालय से शुरू होकर शहर के मुख्य मार्ग गोल चक्कर, केसरगंज, डिग्गी हेमू कालानी चौक, प्लाजा सिनेमा, पडाव, क्लॉक टॉवर थाना, मदार गेट, मुख्य डाकघर, चूड़ी बाजार, गोल प्याऊ, नया बाजार, आगरा गेट सब्जी मंडी, महावीर सर्किल, बजरंगगढ़ चौराहा, वैशाली नगर, रीजनल चौराहा होते हुए नौसर घाटी स्थित महाराणा प्रताप स्मारक पर विसर्जित हुई।

एडीए अध्यक्ष शिवशंकर हेड़ा के नेतृत्व में निकाली गई इस रैली को शिक्षा राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी व कलक्टर आरती डोगरा ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। रास्ते में रैली का जगह-जगह स्वागत किया गया। जय शिवा सरदार की, जय राणा प्रताप की उदघोष से रैली मार्ग गूंज उठा।

लोगों ने रास्ते में कहीं साफा बांधा तो कहीं तलवार भेंट कर शौर्य उत्सव की सराहना की। रैली शामिल युवा ने हाथों में भगवा ध्वज थामें महाराणा प्रताप के चित्र से सजी टी-शर्ट पहने हुए थे। विभिन्न स्थानों पर हुई आतिशबाजी ने लोगों का मन मोह लिया। चेतक रैली में शामिल लोगों के लिए व्यापारियों, सामाजिक संगठनों व आमजन ने विभिन्न स्थानों पर जलपान की भी व्यवस्था की।

रैली में आगे व पीछे चल रहे वाहनों पर लगे डीजे पर देश भक्ति गीत बज रहे थे। रैली के यातायात व्यवस्था देख रहे कार्यकर्ताओं ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। पुलिस प्रशासन का पूरा सहयोग रहा। महाराणा प्रताप की वेशभूषा धारण व्यक्ति रैली में आकर्षण का केन्द्र बना रहा।

रैली के संयोजक राजेन्द्र पंवार, सह संयोजक विजय दिवाकर सोम रत्न आर्य व रमेश मेघवाल, संजीव नागर, नरेन्द्र सिंह शेखावत, रविन्द्र जसोरिया, अशोक राठी, जितेन्द्र मिततल, उषा किरण जोशी, विनोद कंवर समेत सैकडों लोग उपस्थित रहे।

16 जून को होने वाले कार्यक्रम

मैराथन दौड़ : महाराणा प्रताप जयन्ती के अवसर पर अजमेर विकास प्राधिकरण के तत्वाधान में नई चौपाटी (रीजनल कॉलेज के सामने) से नौसर घाटी स्थित महाराणा प्रताप स्मारक तक मैराथन दौड़ का आयोजन किया जाएगा। यह दौड़ 16 मई को सुबह 6 बजे प्रारम्भ होगी। दौड़ में प्रथम तीन स्थान पर आने वाले धावकों को पुरस्कार प्रदान किए जाएंगे। संयोजक विनीत लोहिया, सहसंयोजक कंवल प्रकाश किशनानी, सहसंयोजक विजय दिवाकर, राजेन्द्र पंवार, सदस्य सोमरत्न आर्य, आनन्द सिंह राजावत, रविन्द्र जसोरिया, रमेश शर्मा, नरेन्द्र सिंह शेखावत, नवीन सोगानी, सुनील जैन को बनाया गया है।

पुष्पांजलि और पारितोषिक वितरण समारोह

महाराणा प्रताप जयंती का मुख्य समारोह सुबह 7 बजे होगा। पुष्पांजलि में आमजन को भाग लेने की अपील की गई है। 7.30 बजे मैराथन दौड़ और चित्रकला प्रतियोगिता के विजेताओं को पुरस्कार देकर सम्मानित किया जाएगा। कार्यक्रम संयोजक रमेश मेघवाल, सहसंयोजक सोमरत्न आर्य और अशोक राठी को बनाया गया है।