चेटीचण्ड महापर्व : झूलेलाल का पंझडा और महाआरती का आयोजन

अजमेर। हम ईष्टदेव झूलेलाल के बताए मार्ग से प्रेरणा लेकर धर्म पर कायम रहें, जीवन में संघर्ष से विचलित न हों, समाज पर विश्वास कर सभी के सहयोगी बनें, ये बात स्वामी आत्मदास ने कही।

पूज्य झूलेलाल जयन्ती समारोह समिति के संयोजन में चेटी चण्ड पखवाड़े के तीसरे दिन झूलेलाल मन्दिर जेपी नगर मदार में आयोजित झूलेलाल का पंझडा और महाआरती का आयोजन रखा गया।

इस मौके पर निर्मलधाम झूला मोहल्ला के स्वामी आत्मदास ने कहा कि चेटीचंड के अवसर पर होने वाले क्षेत्रवार कार्यक्रमों से सिन्धु संस्कृति व सभ्यता की जानकारी युवा पीढी को होती है। प्रेम प्रकाश आश्रम आदर्श नगर के दादा नारायणदास दांदूराम साहेब दरबार ट्रस्ट के सेवादार भाई फतनदास ने भी इस अवसर पर आशीर्वचन दिए।

कार्यक्रम संयोजक पुष्पा साधवाणी ने बताया कि हर साल की तरह समाज के प्रमुख लोग अलग-अलग संस्थाओं को जोडकर इस पखवाडे का आयोजन करते हैं, इससे सामाजिक व पारिवारिक जुडाव बढता है।

चेटीचण्ड के अवसर पर मदार क्षेत्र में लीला आसनानी को बेस्ट कपल चुना गया। बुजूर्गो में चंचलदास, ठाकुरदास सोनी, खुबचन्द लालवानी को तथा महिला में इंद्रा आसनानी, रूकमणी देवी, डॉ. माया गुरनानी को सम्मानित किया गया। महेन्द्र तीर्थानी को सिन्धु गौरव मिलने पर सम्मान दिया गया।

कार्यक्रम के दौरान 108 दीपकों से ईष्ट देव झूलेलाल की स्तुति की गई। मशहूर कलाकार घनश्याम भग्त, गोविन्द हरजाणी और लता ठारवाणी ने सभी को भजनों व झूलेलाल के पंझडो की रंगारंग प्रस्तुति देकर और छेज करवाकर अभिभूत किया।

घनश्याम भगत और लता थारवानी ने आंधियन में ज्योत जगायण वारा सिन्धी…, झूलण में विश्वास…, सुहर्णा रस्ता पया सजन… जैसे कई गीतों की प्रस्तुति दी।

समारोह में समन्वय समिति के कंवल प्रकाश किशनानी, भगवान कलवाणी, गिरधर तेजवानी, हरी चन्दनानी, महेन्द्र कुमार तीर्थाणी, जगदीश अबिचंदाणी, राधाकिशन आहूजा, जीडी वृदांणी, रमेश टिलवाणी, आईजी भम्भानी, प्रेम केवलरमानी, नारायणदास थदानी, हेमलता बुरानी, लीला आसवानी, रेखा तोतलानी, लाली मोतियानी, हर्षा कलवानी सहित अलग अलग संस्थाओं के सेवाधारी उपस्थित थे।

समिति के नवलराय बच्चाणी, अशोक तेजवानी, मोहन तुलसियाणी, केजे ज्ञानी, महेश मूलचंदानी, भगवान साधवाणी, मोहन चेलानी, महेश टेकचंदाणी, गोविन्द जैनाणी, रुक्मणी भाटिया, दिलीप थदाणी, प्रकाश जेठरा, कमल लालवानी, दौलत नवलानी, पारस नवलानी, कमल लालवाणी, राम खूबचन्दाणी, चन्द्र बालाणी, अनिल चांडवाणी, किशन नेभवाणी, दिलीप मंघनाणी, मंघाराम, वासुदेव लालवाणी, दीपक चन्दनाणी, चन्द्र गोकलाणी, ईश्वर शिवनाणी, मोहन लालवाणी, मोती जेठाणी, गिरीश बाशाणी, अनिल तेजवाणी आदि उपस्थित रहे।

13 मार्च को होने वाले कार्यक्रम

कार्यक्रम संयोजक निशा जेसवाणी ने बताया कि 13 मार्च को शाम 6 बजे से सिन्धियत जी ज्योत, हिंगलाज माता पूजन और महाआरती सिन्धुपति महाराज दाहरसेन स्मारक पर हरिभाऊ उपाध्याय नगर विस्तार योजना की ओर से किया जाएगा।