बन्दूकों से नहीं, लोकतंत्र से ही होगा समस्याओं का समाधान : मोदी

Chhattisgarh elections 2018 : pm modi addressing rally in Bastar
Chhattisgarh elections 2018 : pm modi addressing rally in Bastar

जगदलपुर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कांग्रेस पर शहरी नक्सलियों के साथ खड़े होने का आरोप लगाते हुए कहा कि बम बन्दूकों से नही बल्कि लोकतंत्र से ही हमारी समस्याओं का समाधान हो सकता है।

मोदी ने आज यहां बस्तर संभाग के भाजपा प्रत्याशियों के समर्थन में एक चुनावी सभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि नक्सलवाद की आड़ लेकर राक्षसी प्रवृत्ति के लोगो ने जिनके हाथे में कलम होनी चाहिए थी उन्हे बन्दूक थमा दिया। उन्होने कहा कि जो स्कूल में आग लगाए, अस्पताल को नुकसान पहुंचाए, विकास में बाधा उत्पन्न करे ऐसे लोग राक्षसी कृ्त्य ही कर रहे है।

उन्होंने कांग्रेस पर शहरी नक्सलियों के खिलाफ कार्रवाई में उनके साथ खड़ा होने का आरोप लगाते हुए कहा कि वातानुकूलित घरों में बड़े शहरों में शानदार जीवन जीने वाले ऐसे लोग वहां पर बैठे बैठे रिमोट से आदिवासी बच्चों का जीबन बर्बाद कर रहे हैं।

उन्होने कहा कि सरकार ने जब ऐसे लोगों पर कार्रवाई शुरू की तो कांग्रेस के लोग समर्थन में खड़ा हो गए और बयानबाजी की। उन्होंने कहा कि यहां आकर नक्सलवाद के विरोध की बातें करते हैं लेकिन वहां समर्थन में खड़े होते हैं।

मोदी ने कहा कि नक्सली निर्दोष लोगों की हत्या करें और कांग्रेस के नेता उन्हें क्रान्तिकारी कहे, यह उनका चरित्र है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का कोई भविष्य नहीं है, और वह झूठ के सहारे धरती पर अपने लिए जगह खोज रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का मूल मंत्र झूठ बोलना हो गया है जबकि उनका मूल मंत्र सबका साथ सबका विकास है।

मोदी ने आदिवासियों, गरीबों कमजोरों के विकास एवं बस्तर में बदलाव के प्रति अपनी प्रतिबद्धता को दोहराते हुए कहा कि आजादी के बाद उतनी बार कोई प्रधानमंत्री बस्तर नहीं आया जितना वह साढ़े चार वर्षों में बस्तर आए है और यहां के लिए हर बार नई योजनाओं एवं कार्यक्रमों की सौगात लेकर आए है। वहीं देश एवं प्रदेश पर लम्बे समय तक शासन करने वाली कांग्रेस ने यहां के विकास के लिए कुछ नहीं किया।

उन्होंने कहा कि आदिवासियों का कांग्रेस ने वोटबैंक के रूप में इस्तेमाल किया और उनके रहम सहन कपड़े को लेकर मजाक उडाया। उन्होंने यहां हुई 1966 में हुई घटना का उल्लेख करते हुए कहा कि आदिवासियों के हक एवं उनके विकास के लिए खड़ा होने पर प्रवीणभंज देव के साथ क्या हुआ था, बस्तर के 60 आदिवासियों को मार दिया गया, ऐसी जुल्म करने वाली कांग्रेस को सबक सिखाना जरूरी है। उन्होंने नक्सल हमले में मारे गए दूरदर्शन के कैमरामैन तथा हाल ही में शहीद हुए सुरक्षा बलों के जवानों को भी याद किया।

छत्तीसगढ़ की 10 वर्षों तक यूपीए शासनकाल में उपेक्षा किए जाने और यहां के विकास में अड़गे लगाने का आरोप लगाते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ में पिछले 15 वर्षों में जो भी विकास हुआ है वह भाजपा के सत्ता में रहने के कारण हुआ है।

उन्होने कहा कि केन्द्र में भाजपा की सरकार बनने के बाद रायपुर एवं नई दिल्ली की दोहरे इंजन की सरकार ने 10 वर्षों के गढ़्ढे को ही भरने का काम नही बल्कि विकास की गति को काफी आगे लेकर गई है।

मोदी ने अपनी सरकार एवं छत्तीसगढ़ सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि सरकार ने गर्भ से लेकर मत्यु तक हर काम में आपके साथ खड़ी है। उन्होंने कहा कि किसी से भेदभाव की बजाय केन्द्र एवं राज्य की करकारों के सभी के लिए काम करने का उल्लेख करते हुए बस्तर की सभी सीटो पर भाजपा उम्मीदवारों को ही जिताने की अपील की।

उन्होने कहा कि बस्तर की घरती पर कमल ही खिलना चाहिए अगर कोई और किसी सीट पर आ गया तो वह बस्तर के सपनों पर दाग लगाएगा। सभा को मुख्यमंत्री डा.रमन सिंह ने भी सम्बोधित किया।