जयपुर : मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इंदिरा रसोई में किया भोजन

जयपुर। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने गुरुवार को राजधानी जयपुर में एक इंदिरा रसोई घर का निरीक्षण किया और वहीं भोजन किया तथा लोगों से बातचीत की।

गहलोत जलमहल की पाल पर संचालित इंदिरा रसोई घर पहुंचे। यहां उन्होंने भोजन करने आए लोगों से भोजन की गुणवत्ता, स्वच्छता, कर्मचारियों के व्यवहार सहित अन्य व्यवस्थाओं के बारे में बातचीत करते हुए रसोई का निरीक्षण किया। उपस्थित लोगों ने इंदिरा रसोई की शुरूआत के लिए मुख्यमंत्री का आभार भी जताया।

इसके बाद गहलोत ने टोकन लेकर पत्नी सुनीता गहलोत, जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी मंत्री डॉ. महेश जोशी, उप मुख्य सचतेक महेंद्र चौधरी व नगर निगम जयपुर हैरिटेज महापौर मुनेश गुर्जर के साथ बैठकर भोजन किया। उन्होंने विजिटर्स डायरी का अवलोकन कर प्रतिक्रिया भी लिखी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा ‘कोई भी भूखा नहीं सोए‘ की भावना के अनुरूप इंदिरा रसोई में आठ रूपए में सम्मानपूर्वक पौष्टिक भोजन खिलाया जा रहा है। उन्होंने जनप्रतिनिधियों से माह में कम से कम एक बार इंदिरा रसोई में भोजन करने के लिए अपील भी की। उन्होंने कहा कि इससे यहां नियमित भोजन करने आने वाले लोगों का मान-सम्मान बढ़ेगा। साथ ही भोजन की गुणवत्ता भी बनी रहेगी।

मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि कोरोना काल में आमजन ने बिना भय के सावधानीपूर्वक ‘कोई भी भूखा नहीं सोए‘ के संकल्प को लेकर घर-घर जाकर भोजन पहुंचाया। जनसहभागिता का यह प्रयास पूरे देश में सराहा गया।

माली-सैनी समाज संगठित था और संगठित रहेगा : भगवानाराम माली