सत्ता के अहंकार में चूर हैं मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत : कांग्रेस

सत्ता के अहंकार में चूर हैं मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत : कांग्रेस
सत्ता के अहंकार में चूर हैं मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत : कांग्रेस

नयी दिल्ली । कांग्रेस ने उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को सत्ता के मद में चूर करार देते हुए शुक्रवार को कहा कि ‘मुख्यमंत्री के जनता दरबार’ में अपनी फरियाद लेकर आयी महिला के साथ उन्होंने जो व्यवहार किया वह उनके अहंकार काे दर्शाता है।

कांग्रेस के प्रवक्ता आर पी एन सिंह ने यहां पार्टी की नियमित प्रेस ब्रीफिंग में संवाददाताओं के सवालों पर कहा कि उन्होंने भी मुख्यमंत्री के जनता दरबार में अपनी समस्या लेकर आयी महिला के साथ हुए दुर्व्यवहार का वीडियो देखा है। उन्हें यह देखकर अफसोस हुआ कि मुख्यमंत्री ने महिला को वहीं पर गिरफ्तार करने का आदेश दिया और उसके बाद एक पुरुष पुलिसकर्मी ने महिला को पकड़ने का प्रयास किया।

उन्होंने कहा की सत्ता के अहंकार में चूर मुख्यमंत्री को फरियादी महिला को इस तरह से गिरफ्तार ही करवाना था तो महिला पुलिसकर्मी को बुला लेते।

उन्होंने मुख्यमंत्री के व्यवहार को अफसोसनाक बताया और कहा कि एक विधवा महिला अध्यापिका अपनी फरियाद लेकर मुख्यमंत्री के दरबार में आयी थी और मुख्यमंत्री उसकी समस्या का निदान करने की बाजय उसे निलम्बित करने और उसकी गिरफ्तारी का हुक्म देते हैं।

प्रवक्ता ने कहा कि लोग मुख्यमंत्री के दरबार में अपनी समस्या रखने आते हैं लेकिन यह दुर्भाग्य की बात है कि भाजपा शासन में उनकी दिक्कत दूर करने के बजाय उन्हें जेल भेजने का आदेश दिया जाता है। उन्होंने इसे भाजपा का तानाशाही रवैया करार दिया और कहा कि सत्ता के अहंकार में चूर मुख्यमंत्री और भाजपा को जनता इसका करारा जवाब देगी।