थाईलैंड की गुफा में फंसे बच्चों ने भेजा सुरक्षित होने का लिखित संदेश

थाईलैंड की गुफा में फंसे बच्चों ने भेजा सुरक्षित होने का लिखित संदेश
थाईलैंड की गुफा में फंसे बच्चों ने भेजा सुरक्षित होने का लिखित संदेश

सिंगापुर। उत्तरी थाईलैंड की एक गुफा में दो सप्ताह से फंसे 12 बच्चों ने अपने परिजनों के लिए पहली बार लिखित संदेश भेजे हैं जिसमें सुरक्षित होने का दावा किया गया है।

बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार गोताखोरों का एक दल शनिवार को एक लिखित संदेश लेकर लौटा जिसमें कुछ बच्चों ने लिखा कि आप लोग चिंता मत कीजिए, हम सभी बहादुर हैं। इसके साथ कुछ बच्चों ने गुफा में अपनी पसंद का खाना भी मंगवाया है।

इससे पहले बचाव दल के अधिकारियों ने बताया था कि गुफा में ऑक्सीजन की लाइन बिछा दी गई है ताकि बच्चों को सांस लेने में कोई दिक्कत न हो।

गौरतलब है कि सभी बच्चे और उनके कोच 23 जून की शाम फुटबॉल का अभ्यास करने के बाद इस गुफा को देखने गए थे लेकिन बाढ़ के पानी के कारण सभी गुफा के अंदर फंस गए। बचाव दल के अनुसार गुफा में फंसे बच्चों और उनके कोच ने गुफा के भीतर कोई ऐसी जगह तलाश ली थी जिससे वे लोग बाढ़ के पानी की चपेट में आने से बच गए।

कोच इक्कापोल चांतावॉन्ग ने भी संदेश भेजा है जिसमें उन्होंने लिखा है सभी परिजनों को मैं बताना चाहता हूं कि सारे बच्चे सुरक्षित हैं। बचाव दल के लोग हमारा ख्याल रख रहे हैं। मैं सभी से वादा करता हूं कि बच्चों की सुरक्षा के लिए मैं सब कुछ करूंगा। मदद के लिए सभी लोगों का शुक्रिया।