असंगठित कर्मकारों के बच्चों को महाविद्यालयों में निशुल्क प्रवेश मिलेगा

Children of unorganized workers will get free admission in colleges
Children of unorganized workers will get free admission in colleges

भोपाल । मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री जनकल्याण (शिक्षा प्रोत्साहन) योजना के तहत असंगठित कर्मकारों के बच्चों को महाविद्यालयों में निशुल्क प्रवेश दिया जायेगा।

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार राज्य शासन की ओर से ई-प्रवेश 2018-19 की प्रक्रिया में निशुल्क उच्च शिक्षा योजना 2018-19 लागू करने के निर्देश जारी किये गये हैं। सरकार ने सभी शासकीय विश्वविद्यालयों, शासकीय महाविद्यालयों और अनुदान प्राप्त अशासकीय महाविद्यालयों में निशुल्क उच्च शिक्षा योजना-2018-19 लागू करने का निर्णय लिया है।

इसके तहत स्नातक स्तर पर प्रथम, द्वितीय और तृतीय वर्ष में तथा स्नातकोत्तर स्तर पर प्रथम एवं द्वितीय वर्ष के पारम्परिक और स्ववित्तीय पाठ्यक्रमों में निशुल्क प्रवेश सुनिश्चित किया जाएगा। योजना के लिये विद्यार्थी के माता-पिता का श्रम विभाग में असंगठित कर्मकार के रूप में पंजीयन होना आवश्यक होगा। पात्रता सुनिश्चित होने पर प्रवेश के समय यह लाभ दिया जायेगा।

सभी शासकीय और अशासकीय तथा अनुदान प्राप्त महाविद्यालयों के प्राचार्य तथा विश्वविद्यालयों के कुल-सचिवों को मुख्यमंत्री जनकल्याण (शिक्षा प्रोत्साहन) योजना के प्रावधानों की जानकारी का विद्यार्थियों में व्यापाक प्रचार-प्रसार करने के निर्देश दिये गये हैं।