पैसा जनता के विकास पर हो रहा खर्च : वसुंधरा राजे

चित्तौड़गढ़। मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने कहा है कि प्रदेश में विकास के जितने काम उनकी सरकार ने कराए, अगर हर पांच साल में होते रहते तो राज्य को कभी पीछे मुड़कर देखने की जरूरत नहीं होती।

राजे आज चित्तौड़गढ़ जिले के डूंगला में बड़ी सादड़ी विधानसभा क्षेत्र के लिए 63 करोड़ रूपए से अधिक के विकास कार्यों के लोकार्पण के बाद आमसभा में बोल रही थीं। उन्होंने कहा कि पैसा भी जनता का, सरकार भी जनता की इसलिए खर्च भी जनता के विकास पर ही हो रहा है।

उन्होंने कहा कि चित्तौड़गढ़ जिले सहित प्रदेश में विकास के जितने काम राज्य की भाजपा सरकार ने किए हैं, उतने काम अगर हर पांच साल में होते रहते तो राजस्थान को कभी पीछे मुड़कर देखने की आवश्यकता नहीं होती।

उन्होंने कहा कि चित्तौड़गढ़ जिले में पिछले साढ़े चार साल में करीब साढ़े पांच हजार करोड़ रूपये के विकास स्वीकृत किए जबकि पिछली सरकार ने पांच वर्षाें में यहां तीन हजार करोड़ रूपये से भी कम के विकास कार्य कराए।

उन्होंने कहा कि सरकार ने लघु और सीमांत किसानों की ऋण की समस्या को समझा और उनके 50 हजार रूपये तक के ऋण माफ किए हैं तथा बकाया पर शास्तियां माफ की हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार कृषक ऋण राहत आयोग बनाने जा रही है। इससे ऋण से जूझने वाले जरूरतमंद किसानों को राहत मिलेगी।

राजे ने बड़ी सादड़ी विधानसभा क्षेत्र को 63 करोड़ 35 लाख रूपए के विकास कार्याें की सौगात दी। उन्होंने बड़ी सादड़ी विधानसभा क्षेत्र के डूंगला में मंगलवार को मुख्यमंत्री जनसंवाद से पूर्व आयोजित जनसभा में विभिन्न विकास कार्याें का लोकार्पण किया।

उन्होंने यहां 54 करोड़ 80 लाख रूपए की लागत के डबोक-मगंलवाड़-बड़ी सादड़ी रोड़ राज्य मार्ग संख्या पन्द्रह का, एक करोड़ 75 लाख रूपए की लागत के डूंगला तहसील कार्यालय भवन का तथा 6 करोड़ 80 लाख रूपए की लागत की डूंगला मॉडल स्कूल का लोकार्पण भी किया। इस अवसर पर नगरीय विकास मंत्री श्रीचंद कृपलानी तथा अन्य जनप्रतिनिधि भी मौजूद थे।