ऑटो इंडस्ट्री में बड़े पैमाने पर हो रही छंटनियों के खिलाफ 30 अगस्त को सीटू का प्रदर्शन

In situ demonstration against massive layoffs in the auto industry on August 30
In CITU strike demonstration against massive layoffs in the auto industry on August 30

गुड़गांव | ऑटो इंडस्ट्री में बड़े पैमाने पर हो रही छंटनियों व हरियाणा में मजदूर-कर्मचारियों के अन्य मुद्दों को लेकर सेंटर ऑफ इंडियन यूनियन्स (सीटू) 30 अगस्त को विरोध प्रदर्शन करेगा।

सीटू की जिला कमेटी की बैठक जो सतवीर सिंह की अध्यक्षता में की गई, के बाद आज जारी बयान के अनुसार हरियाणा ऑटो इंडस्ट्री का बहुत बड़ा हब है और यहां भी मारूति, होंडा की कार-मोटर साईकिल बनाने वाली कम्पनियों व इनके पार्टस बनाने वाली सैंकड़ों की संख्या में एनसेलरियों में भारी छंटनियां हो रही हैं। 

बयान के अनुसार अन्य मुद्दों में जिले के वन मजदूरों की मांगें हैं, जो अपना रिकॉर्ड निकलवाने के पिछले 10 महीनों से वन अधिकारी के कार्यालय के समक्ष धरना लगाए बैठे है और द्रोण रेहड़ी पटडी फेरी कमेटी के मजदूरों को प्रशासन की तरफ से पिछले बीस दिनों से प्रताड़ित कर उनके ठीयों से खदेड़ने का मुद्दा है। इन्हें लेकर 30 अगस्त को प्रदर्शन किये जाएंगे। 

बयान के अनुसार सीटू का हरियाणा राज्य सम्मेलन 24 से 26 नवंबर को सिरसा में आयोजित किया जाएगा और उसके बाद अखिल भारतीय सम्मेलन अगले साल 23 से 27 जनवरी को चेन्नई में आयोजित किया जाएगा, जिसमें देश भर से मजदूर प्रतिनिधि हिस्सा लेंगे तथा भविष्य के आंदोलन व संघर्षों की रूप रेखा तैयार करेंगे।

इसके अलावा राज्य में आम लोगों के मुद्दों को मुख्य पटल पर लाने के उद्देश्य से राज्य के कुछ प्रबुद्ध नागरिक व बुद्धीजीवियों की तरफ से 25 अगस्त को राज्य स्तरीय नागरिक सम्मेलन जीन्द में बुलाया गया है। इस सम्मेलन में राज्य की हाालत व मांगों-मुद्दों बारे एक चार्टर तैयार किया जाएगा। 

बयान के अनुसार आंगनवाड़ी वरर्ग्स एंड हेल्पर्स यूनियन 26 अगस्त को करनाल में मुख्यमंत्री के आवास पर प्रदर्शन करेंगी तथा तीन सितंबर से पांच सितंबर तक आशा, मिड-डे मील व आंगनवाड़ी कर्मी जिला मुख्यालयों पर अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन करेंगी।