अलवर में 10वीं कक्षा की छात्रा से छेडखानी, अपहरण का प्रयास

अलवर। अलवर जिले के खेड़ली थाना क्षेत्र में दसवीं कक्षा की एक छात्रा का अपहरण का प्रयास एवं उसके साथ छेड़खानी करने तथा इसकी रिपोर्ट लिखाने गए पीड़िता के परिजनों को थाने में बंद कर देने का का मामला सामने आया हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार मामले की शिकायत पुलिस अधीक्षक राजेन्द्र सिंह से करने के बाद आरोपी सलेमपुर निवासी पंकज, सोहन सिंह एवं गौरव के खिलाफ मामला दर्ज किया गया।

पीड़िता के परिजनों ने दर्ज मामले में थानाधिकारी उमेश बेनीवाल पर आरोप लगाया कि आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज करने के बजाय उन्हें थाने में हवालात में बंद कर दिया और फर्जी मामले में बंद करने की धमकी भी दी। बाद में उन्हें एक व्यवसायी की जमानत पर छोड़ा गया जबकि आरोपियों को शांतिभंग का मामला बताकर छोड़ दिया गया।

आरोपी सोहन सिंह का भाई विष्णु खेड़ली थाने में कांस्टेबल के पद पर तैनात है। इसलिए पुलिस अभी भी उन्हें जबरन राजीनामा करने पर दबाव बना रही है वहीं इस मामले की जांच भी थानाधिकारी बेनीवाल कर रहे हैं। ऐसे पीड़िता को न्याय की कोई उम्मीद नहीं हैं।

उल्लेखनीय है कि पीड़िता सलेमपुर की रहने वाली है और वह खेड़ली थाना क्षेत्र के डोरौली गांव में अपनी बुआ के यहां 10वीं की पढ़ाई कर रही है। पिछले कुछ दिन से तीनों आरोपी उसे परेशान कर रहे थे।

गत 23 जुलाई को करीब साढ़े ग्यारह बजे जब पीड़िता अपनी बुआ के पुराने मकान से नए मकान पर जा रही थी तब घात लगा कर बैठे तीनों आरोपियों ने उसे पकड़ लिया और उसका मुंह बंद कर जबरन गाड़ी पर बैठा कर अपहरण करने का प्रयास किया।

इस दौरान उन्होंने उसके साथ छेड़खानी भी की। पीड़िता के शोर मचाने पर लोग एकत्रित हो गए और आरोपियों को पकड़कर पुलिस को सुपर्द कर दिया गया था।