हरियाणा में सफाई कर्मियों की हड़ताल से शहरों में सफाई व्यवस्था चरमराने लगी

हरियाणा में सफाई कर्मियों की हड़ताल से शहरों में सफाई व्यवस्था चरमराने लगी
हरियाणा में सफाई कर्मियों की हड़ताल से शहरों में सफाई व्यवस्था चरमराने लगी

सिरसा | अपनी अठारह सूत्री मांगों को लेकर हरियाणा में नगरपालिका और नगरपरिषद के सफाई कर्मियों के गत तीन दिनों से हड़ताल पर जाने से शहरों और कस्बोंं में सफाई व्यवस्था चरमराने लगी है तथा शहरों और गलियों में कूड़ा कर्कट के ढेर लगने लगे हैं।

इस बीच सफाई कर्मियों ने आज यहां डा0 भीमराव अम्बेडकर चौक पर एकत्रित होकर राज्य सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की तथा मुख्यमंत्री का पुतला दहन किया। नगरपालिका कर्मचारी संघ के अध्यक्ष चंद्रशेखर ने कहा कि सरकार ने अगर उनकी मांगे नहीं मानी तो ये हड़ताल अनिश्चितकालीन हो जाएगी। उन्होंने कहा कि पहले तीन दिन की हड़ताल सांकेतिक थी लेकिन सरकार ने इस दौरान उनके साथ कोई बैठक नहीं की। सरकार के इस उपेक्षित रवैये के चलते हड़ताल को तीन दिन और बढ़ाया गया है अगर अब भी उसने कोई बातचीत नहीं की उन्हें मजबूरत हड़ताल को अनिश्चितकालीन करना पड़ेगा।

सफाईकर्मियों की हड़ताल को लेकर जब नगर परिषद् के कार्यकारी अधिकारी वीरेंद्र सहारण से सम्पर्क किया गया तो उन्हाेंने कहा कि इस इस सम्बंध में कर्मचारियों से बातचीत की जा रही है। उन्होंने नागरिकों से अपील की है कि वे घर और दुकानों के बाहर और सड़क पर कूड़ा कर्कट नहीं फैलाएं। उधर नागरिकों ने प्रशासन से सफाई कर्मियों की हड़ताल के मद्देनज़र कूड़ा कर्कट उठाने की वैकल्पिक व्यवस्था करने की मांग की है।