तेजी पर लगा ब्रेक, सेंसेक्स 283 अंक निफ़्टी 86 अंक लुढ़का

मुंबई। अंतरराष्ट्रीय बाजारों से मिले नकारात्मक संकेतों के बीच घरेलू स्तर पर तेल एवं गैस, यूटिलिटी, धातु, आईटी, पावर और बैंकिंग जैसे समूहों में हुई बिकवाली के कारण आज शेयर बाजार में गिरावट दर्ज की गई।

बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 282.63 अंक टूटकर 52306.08 अंक और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ़्टी 50.80 अंक उतर कर 15686.95 अंक पर रहा। दिग्गज कंपनियों में हुई बिकवाली की तरह है छोटी और मझौली कंपनियों में भी मुनाफावसूली देखी गई जिससे बीएसई का मिड कैप 0.26 फीसदी टूटकर 22434.65 अंक पर और स्मॉल कैप 0.43 प्रतिशत टूटकर 24952.62 अंक पर रहा।

बीएसई में शामिल अधिकांश समूहों में गिरावट दर्ज की गई जिसमें तेल एवं गैस 1.21 फीसदी, यूटिलिटी 1.18 फीसदी, धातु 1.05 प्रतिशत, एनर्जी 0.97 प्रतिशत, टेक 0.86 प्रतिशत, आईटी 0.83 प्रतिशत, पावर 0.77 प्रतिशत, बैंकिंग 0.62 प्रतिशत और वित 0.50 प्रतिशत शामिल है। बढ़त में रहने वाले समूहों में ऑटो 0.49 प्रतिशत और सीजी 0.89 प्रतिशत शामिल है।

अंतर्राष्ट्रीय बाजारों में मिश्रित रूख देखा गया। ब्रिटेन का एफटीएसई 0.38 प्रतिशत, हांगकांग का हैंगसेंग 1.79 प्रतिशत और चीन का शंघाई कंपोजिट 0.25 प्रतिशत की बढ़त में रहा जबकि जर्मनी का डेक्स 0.36 प्रतिशत और जापान का निक्की 0.03 प्रतिशत टूट गया।

शुरुआती कारोबार में बीएसई का सेंसेक्स 324 अंकों की तेजी के साथ 52912.35 अंक पर खुला और सत्र के दौरान यही इसका उच्चतम स्तर भी रहा। उसके बाद बिकवाली शुरू हो गई जो सत्र के अंत तक बना रहा और इस दौरान यह 52264.12 अंक के निचले स्तर तक उतरा। अंत में यह पिछले दिवस के 52588.71 अंक की तुलना में 282.63 अर्थात 0.54 प्रतिशत टूटकर 52306.08 अंक पर रहा।

एनएसई का निफ्टी 90 अंकों की तेजी के साथ 15862.80 अंक पर खुला और खुलते ही यह 15862.95 अंक के उच्चतम स्तर तक चढ़ा। हालांकि इसके बाद बिकवाली शुरू हो गई जिससे यह 15673.95 अंक के निचले स्तर तक फिसल गया। आखिर में यह पिछले दिवस के 15772.75 अंक की तुलना में 85.80 अर्थात 0.54 प्रतिशत गिरकर 15686.95 अंक पर रहा। सत्र के दौरान निफ्टी में शामिल कंपनियों में से 16 हरे निशान में जबकि 34 लाल निशान में रहे।

सेंसेक्स में शामिल कंपनियों में से मात्र 7 कंपनियां हरे निशान में रहे जबकि 23 कंपनियां लाल निशान में रहे गिरावट में रहने वालों में कोटक बैंक 1.32 प्रतिशत, एल टी 1.29 प्रतिशत, टाटा स्टील 1.23 प्रतिशत, टीसीएस 1.17 प्रतिशत, एक्सिस बैंक 0.97 प्रतिशत, आईसीआईसीआई बैंक 0.96 प्रतिशत, एचडीएफसी 0.95 प्रतिशत, रिलायंस 0.94 प्रतिशत, एचसीएल टेक 0.89 प्रतिशत, एनटीपीसी 0.89 फीसदी, पावरग्रिड 0.77 फीसदी, एशियन पेंट्स 0.74प्रतिशत, इंफोसिस 0.59 प्रतिशत, आईटीसी 0.49 प्रतिशत, एअरटेल 0.48 प्रतिशत, बजाज आटो 0.47 प्रतिशत, हिन्दुस्तान यूनिलीवर 0.41 प्रतिशत, टेक महिंद्रा 0.38 प्रतिशत, नेस्ले इंडिया 0.28 फीसदी, डॉ रेड्डीज 0.23 फीसदी, सन फार्मा 0.20 फीसदी, इंडसइंड बैंक 0.11 प्रतिशत और बजाज फाइनेंस 0.04 प्रतिशत शामिल है।

बढ़त में रहने वालों में मारुति 2.33 प्रतिशत, टाइटन 1.49 प्रतिशत, बजाज फिन सर्व 1.22 प्रतिशत, महिंद्रा 0.84 प्रतिशत, अल्ट्राटेक सीमेंट 0.69 प्रतिशत, एचडीएफसी बैंक 0.05 प्रतिशत और स्टेट बैंक 0.04 प्रतिशत शामिल है।