राजस्थान विकास में अग्रणी पंक्ति में खड़ा : वसुंधरा राजे

cm vasundhara raje jan samvad at khanpur in jhalawar

झालावाड़। राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने कहा है कि उनकी सरकार के जात-पांत, क्षेत्र और राजनीति से ऊपर उठकर काम करने के प्रयासों से प्रदेश आज अग्रणी पंक्ति में खड़ा हैं।

राजे मंगलवार को झालावाड़ जिले के खानपुर में जनसंवाद कार्यक्रम में बोल रही थीं। उन्होंने कहा कि इन प्रयासों के कारण अति पिछड़ा झालावाड़ ही नहीं प्रदेश के सभी जिलों का समग्र विकास सम्भव हो पाया और बीमारू कहा जाने वाला राजस्थान प्रदेश आज अग्रणी पंक्ति में खड़ा हो सका।

उन्होंने कहा कि तीस साल पहले जब उन्होंने झालावाड़ की धरती पर कदम रखा, तब झालावाड़ प्रदेश के सबसे पिछड़े जिलों में शामिल था, लेकिन अब सकारात्मक प्रयासों से झालावाड़ की दशा और दिशा पूरी तरह बदल गई है और विकास की दृष्टि से यह अग्रणी जिलों में शामिल हो गया है।

उन्होंने बताया कि पिछले सवा चार साल में झालावाड़ जिले में 16 हजार 923 करोड़ रूपए के विकास कार्य स्वीकृत किए गए। जिनमें 1504 करोड़ रूपए सड़कों के विकास पर, 534 करोड़ रूपए पेयजल पर, 2157 करोड़ रूपए सिंचाई परियोजनाओं पर तथा 4284 करोड़ रूपए बिजली पर व्यय किए गए। उन्होंने कहा कि इस दौरान खानपुर विधानसभा क्षेत्र में 4819 करोड़ रूपए के विकास कार्य मंजूर किए गए है।

उन्होंने तीस सितम्बर तक खानपुर का कायाकल्प करने के निर्देश दिये। खानपुर के लोगों ने नया बस स्टैण्ड बनाए जाने की मांग पर मुख्यमंत्री ने जिला कलेक्टर, पीडब्ल्यूडी एवं अन्य संबंधित अधिकारियों को तत्काल इसकी कार्ययोजना बनाने के निर्देश भी दिए।

इस दौरान सांसद दुष्यंत सिंह ने बस स्टैण्ड के लिए सांसद कोष से दस लाख रूपए तथा समाजसेवी ताराचंद ने 25 लाख रूपए की राशि देने की घोषणा की। इस मौके सार्वजनिक निर्माण मंत्री ने कहा कि तीस सितम्बर तक नया बस स्टैण्ड बन जाएगा।

राजे ने जनसंवाद के दौरान विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि क्षेत्र के लंबित कृषि कनेक्शनों का निस्तारण बारिश से पहले करें ताकि किसानों को इसका लाभ समय पर मिल सके।

कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने शुभशक्ति योजना, राजश्री योजना, पालनहार योजना, सामाजिक सुरक्षा पेंशन, उज्ज्वला योजना तथा अन्य योजनाओं के लाभार्थियों को चैक एवं स्वीकृति पत्र प्रदान किए। उन्होंने मेघावी विद्यार्थियों को लैपटॉप वितरण योजना के तहत लैपटॉप एवं दिव्यांगों को उपकरण भी वितरित किए।

इस दौरान भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना में लाभान्वित हुए परिवारों ने मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना उनके लिए वरदान साबित हुई है।