राजस्थान कांग्रेस में काबिल चेहरा नहीं, राहुल को बनाया चुनावी चेहरा : वसुंधरा राजे

CM Vasundhara Raje questions Rahul gandhi on becoming election face in rajasthan

जयपुर। राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने कहा कि अशोक गहलोत, सचिन पायलट और सी पी जोशी को नकार कर कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी को चुनावी चेहरा घोषित करने से स्पष्ट हो गया है कि प्रदेश कांग्रेस में कोई काबिल चेहरा ही नहीं है।

राजे ने आज राजस्थान गौरव यात्रा के दौरान छोटी सादड़ी में एक जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि राहुल के राजस्थान में चुनावी चेहरा बनने से यह भी साफ हो गया है कि कांग्रेस भाजपा से बुरी तरह घबरा गई है और हार के डर से उसने राहुल को राजस्थान चुनाव का चेहरा बनाया है लेकिन उसे यहां कामयाबी मिलने वाली नहीं है।

राजे ने कहा कि राहुल गांधी अपने जयपुर प्रवास के दौरान गोविंद देवजी और मोती डूंगरी गणेश जी के दर्शन करेंगे। उन्होंने कहा कि ये अच्छी बात है लेकिन चुनाव के वक्त ही राहुल को देवी-देवता क्यों याद आ रहे हैं। वे पहले भी तो कई बार जयपुर आ चुके हैं।

उनकी तो राष्ट्रीय उपाध्यक्ष के रूप में ताजपोशी भी जयपुर में ही हुई थी। तब तो वे किसी मंदिर में नहीं गए। अचानक उन्हें भगवान कैसे याद आ गये। जबकि कांग्रेस के नेता तो मुझ पर सवाल उठाते आए हैं कि मैं मंदिर बहुत जाती हूं। चलो अच्छा है भाजपा ने राहुल को मंदिर जाना तो सिखा दिया।

उन्होंने भाजपा को दुबारा सत्ता में लाने का आह्व़ान करते हुए कहा कि बार बार सरकारें बदलने से प्रदेश का विकास बाधित होता है। मुख्यमंत्री ने निम्बाहेड़ा विधानसभा क्षेत्र में हुए 67 करोड़ के 16 कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण भी किया।

इस अवसर पर गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया, उच्च शिक्षा मंत्री किरण माहेश्वरी, नगरीय विकास मंत्री श्रीचंद कृपलानी एवं बड़ी संख्या में जनप्रतिनिधि और आमजन मौजूद थे।