6000 कांस्टेबल पदोन्नत पुलिसकर्मियों का बीमा 10 गुना बढ़ा

CM Vasundhara Raje addressing police academy state level promotion function

जयपुर। मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने 6 हजार कांस्टेबलों की पदोन्नति के अवसर पर प्रदेश के सभी पुलिसकर्मियों को एक बड़ी सौगात देते हुए कांस्टेबल से लेकर पुलिस महानिदेशक स्तर तक के लिए दोहरी बीमा योजना राशि में 10 गुना बढ़ोतरी की घोषणा की है। राज्य पुलिसकर्मियों की इस बीमा योजना में यह बढ़ोतरी 27 साल बाद की गई है।

राजे ने राजस्थान पुलिस अकादमी में बुधवार को राज्यस्तरीय पुलिस पदोन्नति समारोह में उपस्थित हजारों नव पदोन्नत हैड कांस्टेबल्स तथा अन्य पुलिसकर्मियों के बीच यह घोषणा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि अब कांस्टेबल से हैड कांस्टेबल तक 20 लाख रुपए, एएसआई से पुलिस निरीक्षक तक 40 लाख तथा उप अधीक्षक से पुलिस महानिदेशक तक 60 लाख रुपए का दोहरा बीमा किया जाएगा।

राजे ने कहा कि पहले कई कांस्टेबल अपने पूरे सेवाकाल में बिना पदोन्नत हुए सेवानिवृत्त हो जाते थे। हमारी सरकार ने उनकी इस पीड़ा को पूरी शिद्दत से महसूस किया और उनके हक में संवेदनशील निर्णय लेते हुए फैसला लिया कि 18 साल या उससे अधिक सेवा पूरी कर चुके कांस्टेबल्स को योग्यता परीक्षा के स्थान पर स्क्रीनिंग पद्धति से पदोन्नत किया जाए। मुझे खुशी है कि मात्र दो माह से कम समय में 6 हजार कांस्टेबलों का पदोन्नति का सपना आज पूरा हो रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि अब भविष्य में भी कांस्टेबलों को इसी प्रकार प्रमोशन मिलते रहेंगे और कोई पात्र कांस्टेबल बिना पदोन्नति के सेवानिवृत्त नहीं होगा। उन्होंने कहा कि राजस्थान की गिनती अमन-चैन और शांतिप्रिय प्रदेश के रूप में होती है।

इसका बहुत कुछ श्रेय हमारे जांबाज पुलिसकर्मियों को जाता है। उन्होंने कहा कि हमारे पुलिसकर्मी दिन-रात चौकस रहकर मुस्तैदी से अपनी ड्यूटी को अंजाम देते हैं और हम सब उन्हीं की बदौलत अपने आप को सुरक्षित महसूस करते हैं।

मुख्यमंत्री ने सभी पदोन्नत होने वाले 6 हजार पुलिसकर्मियों एवं उनके परिजनों को बधाई देते हुए कहा कि हम सब मिलकर राजस्थान पुलिस को देश की सर्वश्रेष्ठ पुलिस फोर्स बनाएंगे। उन्होंने कहा कि आप सभी अपराधियों में कानून के प्रति डर पैदा करें और बेगुनाह के हमदर्द बनें। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने 15 नव पदोन्नत हैड कांस्टेबलों को वर्दी पर फीत पहनाई। उन्होंने एशियन गेम्स 2018 के मेडल विजेता पुलिसकर्मियों को भी सम्मानित किया।

इससे पहले गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया ने कहा कि बीते करीब पौने पांच साल के दौरान राज्य सरकार ने पुलिस आधुनिकीकरण पर पूरा जोर दिया है। इससे पुलिस की कार्य क्षमता और कार्य प्रणाली में काफी सुधार आया है। पुलिसकर्मियों के भत्ते बढ़ाने के साथ-साथ उन्हें वाहन, आधुनिक हथियार एवं अन्य उपकरण भी उपलब्ध कराए गए हैं।

पुलिस महानिदेशक ओपी गल्होत्रा ने पुलिस महकमे में पदोन्नति का रास्ता खोलकर पुलिसकर्मियों के मनोबल में वृद्धि के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर अतिरिक्त मुख्य सचिव गृह एसके अग्रवाल, विशिष्ट महानिदेशक कानून एवं व्यवस्था एनआरके रेड्डी भी मंचासीन थे।