रामलला के दर्शन के बाद योगी ने हनुमानगढ़ी मंदिर में भी टेका मत्था

अयोध्या। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने श्रीरामजन्मभूमि पर विराजमान रामलला का दर्शन करने के बाद प्रसिद्ध हनुमानगढ़ी मंदिर में जाकर मत्था टेका।

योगी आज यहां श्रीरामजन्मभूमि पर विराजमान रामलला का दर्शन व आरती करने के बाद प्रसिद्ध हनुमानगढ़ी मंदिर में जाकर मत्था टेका और अंतर्राष्ट्रीय रामकथा संग्रहालय एवं आर्ट गैलरी में जनप्रतिनिधियों से मुलाकात की।

उन्होंने अयोध्या में हो रहे विकास कार्यों का जानकारी भी ली। रामकथा संग्रहालय में अधिकारियों के साथ विकास कार्यों की बैठक कर समीक्षा भी किया। इसके बाद श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की अध्यक्ष एवं मणिराम दास छावनी के महंत नृत्यगोपाल दास से भी मुलाकात किया।

इस मौके पर योगी ने कहा कि अयोध्या एक धार्मिक स्थल है। हम अयोध्या को विश्वस्तरीय सिटी बनायेंगे। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया कि मौजूदा परियोजना को विश्वस्तरीय शहर बनाने के लिये समयबद्ध ढंग से कार्य करें।

उन्होंने कहा कि अयोध्या के निर्माण में केवल निर्माण ही नहीं उसके वास्तु सांस्कृतिक महत्व श्रद्धालुओं को केन्द्र मानकर करना होगा। नगर विकास प्राधिकरण दोनों मिलकर शहर की साफ-सफाई, सीवर, जल निकासी, स्वच्छता, पेयजल आदि मानकों को पूरा करें।

उन्होंने कहा कि अयोध्या को आकर्षण का केन्द्र बनाने के लिए धर्मशालाओं, पुराने मंदिरों को संतों से समन्वय कर उसके जीर्णोद्धार की कार्यवाही करने और आम श्रद्धालुओं के लिए मंदिरों में भी सुविधा बनाने के लिए कार्य करने को कहा।

मुख्यमंत्री ने अयोध्या के सुरक्षा सम्बन्धित मानकों में जो निर्णय हुआ उसे तत्काल अमल में लाया जाय। उन्होंने कहा कि श्री रामजन्मभूमि कंट्रोल के लिए बारह हजार वर्ग मीटर जमीन की तत्काल व्यवस्था की जाए तथा कमांडों के रहने के लिए प्राधिकरण द्वारा निर्मित आवासों को तत्काल किराये पर लेकर आवश्यक कार्यवाही की जाए।

उन्होंने कहा कि रामायणकालीन वनस्पति करीब 88 चिन्हित किए गए हैं। उसमें वन एवं उद्यान विभाग बेहतर समन्वय करके चौरासी कोसी, चौदह कोसी एवं पंचकोसी मार्गों पर पौधारोपण किया जाए।

योगी ने अयोध्या नगर के रामजन्मभूमि के आसपास चल रहे निर्माण कार्यों तथा छह फ्लाई ओवर और सम्बन्धित कार्यों, शहर की पेयजल योजनाओं, सीवर योजनाओं आदि को जल्द से जल्द पूरा करने के भी निर्देश दिए।

समीक्षा बैठक में मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी के अलावा विभागों के अपर मुख्य सचिव तथा विभागाध्यक्ष सहित अयोध्या के मंडलायुक्त एमपी अग्रवाल, जिलाधिकारी अनुज कुमार झा, अपर पुलिस महानिदेशक, आईजी अयोध्या सहित समस्त अधिकारी उपस्थित थे।