आओ अब मेरा घर भी तोड़ दो : कंगना रनौत

मुंबई। बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत ने उनके कार्यालय के एक हिस्से को कथित रूप से अवैध बताकर बृहन्मुंबई नगर निगम के तोड़फोड़ की कार्रवाई को लेकर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और फिल्मकार करण जौहर पर निशाना साधते हुए कहा कि आओ अब मेरा घर भी तोड़ दो।

कंगना बुधवार को हिमाचल प्रदेश के अपने गृहनगर मनाली से मुंबई लौट आई है। कंगना के मुंबई की तुलना पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) से करने के बाद शिव सेना नेता एवं सांसद संजय राउत ने उन्हें वापस मुंबई लौट कर आने की चुनौती दी थी।

कंगना रनौत के मुंबई लौटने से पूर्व उनके मुंबई स्थित ‘मणिकर्णिका फिल्म्ज’ कार्यालय को बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) ने कथित तौर पर अवैध निर्माण बताते हुए तोड़ दिया है। कंगना ने ट्विटर पर लिखा कि मेरा दफ़्तर 24 घंटों में ही अवैध घोषित कर दिया गया।

उन्होंने सब कुछ नेस्तनाबूद कर दिया है। यहां तक की फर्नीचर और लाइट्स भी। अब मुझे धमकियां मिल रही हैं कि वो मेरा घर भी तोड़ देंगे। मुझे खुशी है कि मूवी माफिया के पसंदीदा सीएम को लेकर मेरा फैसला सही था।

कंगना ने एक अन्य ट्टीट में उद्धव ठाकरे और करण जौहर को ललकारते हुए लिखा कि आओ उद्धव ठाकरे और करण जौहर गैंग, तुमने मेरा वर्क प्लेस तोड़ दिया। अब मेरा घर तोड़ दो। फिर मेरा चेहरा और शरीर भी तोड़ दो। मैं चाहती हूं कि दुनिया देखे कि पर्दे के पीछे तुम लोग क्या करते हो। मैं मरूं या ज़िंदा रहूं, मैं तुम्हें बेपर्दा पर दूंगी।

कंगना ने लिखा कि आज उन्होंने मेरा घर गिराया है। कल आपका होगा। सरकारें आती हैं और चली जाती हैं। जब आप एक आवाज़ को हिंसक तरीके से दबाते देखने के आदी हो जाओगे, यह सामान्य बनता जाएगा। आज एक आदमी को चिता पर जलाया जा रहा है, कल हज़ारों का जौहर होगा। जागो।

कंगना ने लिखा कि मैं अपनी मुंबई में हूँ, अपने घर में हूं मुझपे वार भी हुआ तो पीठ पीछे जब मैं फ़्लाइट में थी, सामने नोटिस देने की या वार करने की हिम्मत नहीं है मेरे दुश्मनों में ये जानकर अच्छा लगा, बहुत लोग मुझे पहुंचाई हुई हानि से दुखी और चिंतित हैं मैं उनके आशीर्वाद और स्नेह की आभारी हूं।