सत्येदव त्रिपाठी ने कांग्रेस का हाथ छोड़ पकड़ा भाजपा का दामन

लखनऊ। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व मंत्री सत्यदेव त्रिपाठी और उनके पुत्र अभिषेक त्रिपाठी समेत समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के कई नेताओं ने बुधवार को भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण की।

पार्टी के प्रदेश दफ्तर में विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं को प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण कराई। इस अवसर पर पूर्व प्रदेश अध्यक्ष व ज्वाइनिंग कमेटी के अध्यक्ष डॉ लक्ष्मीकान्त बाजपेयी, प्रदेश उपाध्यक्ष व ज्वाइनिंग कमेटी के सदस्य दयाशंकर सिंह और कैबिनेट मंत्री सतीश महाना भी उपस्थित रहे।

स्वतंत्र देव ने सत्यदेव त्रिपाठी के अलावा कांग्रेस नेता रीता सिंह, 2007 के विधानसभा चुनाव में सपा के प्रत्याशी रहे और बसपा से पूर्व विधायक खैरागढ़ भगवान सिंह कुशवाहा, महराजगंज से पूर्व विधायक शिवेन्द्र सिंह, अभिषेक त्रिपाठी, देवरिया से एआईसीसी के सदस्य और प्रदेश कांग्रेस के महासचिव रहे संजीव सिंह, बसपा से 2017 में गोरखपुर ग्रामीण विधानसभा से प्रत्याशी रहे राजेश पाण्डेय, प्रदेश कांग्रेस में ओबीसी विभाग के चेयरमैन रहे विनोद चौधरी यादव, मिर्जापुर से संत चिन्मयानन्द की पत्नी प्रियंका पाण्डेय, इलाहाबाद विश्वविद्यालय छात्रसंघ के प्रकाशन मंत्री अमरेन्द्र प्रताप सिंह और दिल्ली विश्वविद्यालय छात्रसंघ के संयुक्त सचिव चेतना उदानिया को पटका पहनाकर भाजपा परिवार में शामिल कराया।

इस अवसर पर उन्होंने कहा कि आज विभिन्न राजनीतिक दलों के वरिष्ठ और महत्वपूर्ण लोगों ने भाजपा की सदस्यता ली है। समाज को सही दिशा देने वाले ऐसे लोगों की पार्टी को जरूरत है। भाजपा समाज के सभी वर्गों की पार्टी है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तथा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की राष्ट्रवादी नीतियों और विकास के बहुमुखी आयाम व सबका साथ सबका विकास तथा सबका विश्वास की नीति से प्रभावित होकर भाजपा में शामिल हो रहें है और भाजपा के कार्यकर्ता के रूप में भविष्य में काम करने का संकल्प ले रहें है।

सिंह ने कहा कि सत्ता में रहते हुये केवल अपने परिवार और वंश की खुशहाली देखने वाले लोगों को जनता ने देखा है वही राजनीति में तपस्या करने और गरीब की खुशहाली के लिए दिन-रात कार्य करने वाले प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री योगी को भी जनता देख रही है। उन्होंने कहा कि जनसेवा में समर्पित नेताओं और संगठन के प्रत्येक कार्यकर्ता के अथक परिश्रम से हम 2022 में भी 2017 से अधिक सीट जीतकर एक बार फिर प्रदेश में कमल खिलाएंगे।