VIDEO : अजमेर में कांग्रेस का उपवास, गांधी भवन चौराहे पर मौन अनशन

congress sarvajanik upvas fast against modi government at gandhi bhawan ajmer
congress sarvajanik upvas fast against modi government at gandhi bhawan ajmer

अजमेर। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी केंद्र सरकार की नाकामी और संसद की कार्यवाही ठप होने के खिलाफ अपनी पार्टी के राष्ट्रव्यापी अनशन के तहत एक ओर जहां राजघाट पर प्रदर्शन का नेतृत्व किया, वहीं सोमवार को अजमेर में कांग्रेस कार्यकर्ता बीजेपी सरकार के खिलाफ और देश में सांप्रदायिक सौहार्द तथा शांति को बढ़ावा देने के लिए गांधी भवन स्थित महात्मा गांधी की प्रतिमा के समीप उपवास पर बैठे।

कांग्रेस आलाकमान के निर्देश पर एआईसीसी के महासचिव प्रभारी (संगठन) अशोक गहलोत ने सभी पीसीसी प्रमुखों, महासचिवों, प्रभारियों और कांग्रेस विधायक दलों के नेताओं को चिट्ठी भेज कर उपवास के आयोजन के लिए कहा था। सभी प्रदेश इकाइयों के पदाधिकारियों को भेजी गई चिट्ठी में कहा गया कि शांति और सौहार्द इस देश की आत्मा में मिले हैं और इन्हें बचाने और बढ़ावा देने की जिम्मेदारी कांग्रेस की है।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पार्टी की प्रदेश इकाइयों के प्रमुखों को समाज के सभी वर्गों में सौहार्द को बढ़ावा देने के लिए राष्ट्रव्यापी उपवास रखने के निर्देश दिए। इसी के तहत अजमेर के कांग्रेस नेताओं ने उपवास का आयोजन किया।

कांग्रेस कार्यकर्ता और पदाधिकारी सुबह 9 बजे से मदारगेट स्थित गांधी भवन के पास गांधी प्रतिमा के पास चौराहे पर टेंट लगाकर उपवास पर बैठ गए। मौन अनशन के दौरान रामधुनी और रघुपति राघव राजाराम… भजन बजता रहा।

कांग्रेस नेताओं ने कहा कि हाल ही में भारत बंद के दौरान प्रदेश में दलितों पर हुए अत्याचार और उसके बाद हुई हिंसा के विरोध में कांग्रेस की ओर से यह मौन एवं अनशन कार्यक्रम किया गया है। उन्होंने कहा कि यह उपवास राज्य की भाजपा सरकार की नीतियों और कार्यक्रमों के विरोध में है और हम इसके माध्यम से सरकार को नींद से जगाना चाहते हैं।

इस अवसर पर कांग्रेस शहर अध्यक्ष विजय जैन, देहात अध्यक्ष भूपेन्द्र सिंह राठौड, प्रदेश सचिव महेन्द्र सिंह रलावता, पूर्व मंत्री नसीम अख्तर, कांग्रेस नेता हेमंत भाटी, राजकुमार जयपाल, महिला अध्यक्ष सबा खान, सेवादल अध्यक्ष शैलेन्द्र अग्रवाल, गिरधर तेजवानी, आईटी सेल के मनीष सेन, शहर सचिव बालमुकंद टाक, यासिर चिश्ती, हेमंत टोंगरे, अनुपम शर्मा, दीपक धानका, साइबर टीम के अब्दुल रज्जाक भाटी, कैलाश कोमल, रेखा पिंगोलिया, रागिनी चतुर्वेदी, महेन्द्र कटारिया, महेन्द्र भाटी, दिनेश के शर्मा, राजकुमार वर्मा, ईश्वर टहलियानी, मनोज सेन समेत बडी संख्या में कांग्रेस नेता, पदाधिकारी तथा कार्यकर्ता मौजूद रहे।

BJP ने डाली उपवास से पहले ‘छोले भटूरे’ खाते कांग्रेस नेताओं की फोटो

जयपुर : दलितों पर अत्याचार और शांति सदभाव के लिए कांग्रेस का उपवास

राहुल गांधी के ‘मिथ्याग्रह’ का राजघाट पर हुआ पर्दाफाश : भाजपा

कांग्रेस के अनशन से जगदीश टाइटलर और सज्जन कुमार को लौटाया