सांसद रघु शर्मा के रूप में अजमेर कांग्रेस को मिल गया असली हीरो!

अजमेर। आगामी विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस ने दम दिखाना शुरु कर दिया है। सोमवार को कलेक्ट्रेट के बाहर शहर में बिजली, पानी की समस्या को लेकर गुटों में बंटी कांग्रेस एक साथ नजर आई। सांसद डॉ रघु शर्मा के नेतृत्व में देहात और शहर कांग्रेस कमेटी के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने संयुक्त धरना देकर विरोध प्रदर्शन किया, मटके फोडकर गुस्सा भी जाहिर किया।

10 बजे से 12 बजे तक तपती दोपहरी के बावजूद धरना प्रदर्शन के दौरान जुटी खासी भीड को देखकर स्थानीय कांग्रेस नेता गदगद नजर आए। एक तरफ जहां भाषणबाजी का दौर चल रहा था वहीं दूसरी तरफ कार्यक्रम की सफलता को लेकर खुद ही अपनी पीठ थपथपा रहे थे।

कुछ कार्यकर्ता तो दबी जुबान में यहां तक कहने से नहीं चूक रहे थे कि सचिन पायलट के भरोसे चुनावी वैतरणी में उतरने को तैयार कांग्रेस को अजमेर में सांसद रघु शर्मा रूपी बूटी मिल गई है। अब शहर और ​देहात के नाम पर बंटी कांग्रेस पटरी पर आ जाएगी।

congress stage dharna protest outside collectorate over erratic water supply in ajmer

रघु शर्मा की इसी कवायद का असर सोमवार को कलेक्ट्रेट पर किए गए धरना प्रदर्शन में नजर आया। पानी बिजली की नियमित सप्लाई, बढ़ी हुई बिजली दरों को वापस लेने की मांग को लेकर कांग्रेस ने मोर्चा खोलने के अलावा कांग्रेस छोटे छोटे विषयों पर भी प्रखर रूप से विरोध जताने लगी है, इसके पीछे रघु शर्मा का राजनीतिक गुणा भाग और आगामी चुनावों तक पार्टी को मजबूत स्थित में लाना माना जा रहा है।

सोमवार को भीषण गर्मी के बीच पसीने से तरबतर कांग्रेस कमेटी शहर अध्यक्ष विजय जैन और देहात अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह राठौड और प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सचिव महेंद्र सिंह रलावता भी मौजूद रहे। इनके अलावा कद्दावर नेता पीसीसी सदस्य दीपक हासानी, शहर कांग्रेस प्रवक्ता अंकुर त्यागी, महासचिव विपिन बैसिल, प्रदुद्मन्न सिंह, गिरधर तेजवानी ने भी कार्यकर्ताओं में जोश भरा।

congress stage dharna protest outside collectorate over erratic water supply in ajmer

14 दिन पहले ही तय हो गया था धरना प्रदर्शन

पेयजल किल्लत को लेकर सोमवार को हुए धरना प्रदर्शन की पटकथा हांलांकि 14 दिन पहले ही लिखी जा चुकी थी। तब सांसद रघु शर्मा नवनियुक्त कलेक्टर आरती डोगरा से सौहार्दपूर्ण मुलाकात करने पहुंचे थे। मुलाकात के दौरान ही उन्होंने कलक्टर महोदया को शहर में व्याप्त पेयजल समस्या बाबत ज्ञापन भी सौंपा था। ज्ञापन में चेतावनी दी थी कि अगर पेयजल समस्या का समाधान जल्द नहीं किया गया तो अजमेर में उग्र और मटका फोड़ प्रदर्शन किया जाएगा। बस उसी को अमलीजामा पहनाने के लिए धरना प्रदर्शन किया गया। मटका फोड़ प्रदर्शन के दौरान जलदाय विभाग और सरकार को चेतावनी दी कि प्रशासन ने अब भी ध्यान नहीं दिया तो आने वाले दिनों में कांग्रेस उग्र रास्ता अख्तियार करेगी।