कांग्रेस बसपा को कमजोर करना चाहती है : मायावती

नदबई (भरतपुर)। बहुजन समाज पार्टी की सुप्रिमों मायावती ने राजस्थान में कांग्रेस के साथ गठबंधन नहीं होने पर नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि कांग्रेस हमे कमजोर करना चाहती है।

बसपा प्रत्याशी के समर्थन में आयोजित सभा काे सम्बोधित करते हुए मायावती ने कहा कि कांग्रेस हमसे गठबंधन के लिए तैयार थी लेकिन सिर्फ दस बारह सीटें ही देना चाहती थी जो हमें मंजूर नहीं था। उन्होंने कहा कि कांग्रेस हमें यहां कमजोर करना चाहती थी लिहाजा हमने अकेले चुनाव लड़ने का फैसला किया।

उन्हाेंने कांग्रेस पर अाराेप लगाया कि कमजोर वर्ग के प्रति कांग्रेस की नीयत साफ होती तो कांशीराम को 1984 में बसपा का गठन नहीं करना पड़ता। उन्होंने कहा कि कांग्रेस दलितों तथा कमजोर वर्ग की बात तो करती है लेकिन उनकी दशा सुधारने का कोई प्रयास नहीं करती। यहीं कारण है कि दलित आज भी विकास की राह देख रहा है।

उन्होंने भाजपा पर भी दलित विरोधी मानसिकता रखने का आरोेप लगाते हुए कहा कि दलितों पर अत्याचार हो रहे है उन्हें घोड़े पर नहीं बैठने दिया जाता।