अन्याय के खिलाफ जी-जान से लड़ेगी कांग्रेस : राहुल-प्रियंका

नई दिल्ली/भोपाल। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने मध्य प्रदेश के गुना में दलित परिवार के लोगों पर पुलिस की बर्बर कार्रवाई पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए कहा कि पार्टी इस अन्याय के खिलाफ जी-जान से लड़ेगी।

गांधी ने राज्य की मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व वाली भारतीय जनता पार्टी सरकार पर कड़ा हमला करते हुए ट्वीट किया कि हमारी लड़ाई इसी सोच और अन्याय के ख़िलाफ़ है।

वाड्रा ने कहा कि गरीबों पर हमला, दलितों पर हमला, किसान पर हमला, लोकतंत्र पर हमला। यही तो है भाजपा का चाल, चेहरा और चरित्र। इस अन्याय के ख़िलाफ कांग्रेस जी-जान से लड़ेगी।

गांधी ने अपने ट्वीट के साथ गुना में अतिक्रमण हटाने गए पुलिस दल की बर्बरता का एक वायरल वीडियो भी पोस्ट किया है जिसमें दलित किसान परिवार पर पुलिस अत्याचार कर रही है। इस वीडियो में पुलिस दल दलित परिवार की महिला और बच्चों पर डंडे बरसा रहे हैं तथा लात-घूसों से भी उनकी पिटाई कर रहा है।

इस घटना को लेकर गांधी और वाड्रा के शिवराज सरकार पर तीखे हमले के बाद किसान कांग्रेस के उपाध्यक्ष सुरेंदर सोलंकी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर इस घटना के दोषियों को सख्त सजा देने की मांग करते हुए इस घटना को मानवाधिकारों का घोर उल्लंघन बताया है।

उन्होंने कहा कि चौहान के सत्ता संभालने के बाद राज्य में गरीबों, किसानों और दलितों पर अत्याचार की घटनाएं बहुत बढ़ गई हैं लेकिन गुना जैसी घटना पहले कभी नहीं हुई।

सोलंकी ने कहा कि गुना में मंगलवार को किसान से जमीन पर कब्जा छुड़ाने गई पुलिस-प्रशासन की टीम को पीड़ित किसान ने बताया था कि वह कब्जेदार नहीं है, बंटाई से जमीन ली है, दो लाख का कर्ज है। पुलिस ने उसकी पुकार नहीं सुनी, पति-पत्नी और उनके बच्चों पर बेरहमी से लाठियां बरसाई गईं।

उन्होंने सवाल किया कि परेशान किसान पर इतनी बर्बरता क्या उचित है। क़ानून हाथ में लेकर पति-पत्नी, परिजनों और मासूम बच्चों की बेरहमी से पिटाई कहां का न्याय है। क्या यह सब इसलिए किया गया कि वह एक दलित और गरीब किसान हैं।

कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल पीड़ित दंपती से मिलने गुना जाएगा

गुना जिले के जगनपुर गांव में अतिक्रमण हटाने को लेकर एक दंपत्ति के साथ की गई मारपीट के मामले में कांग्रेस का एक प्रतिनिधिमंडल कल पीड़ित दंपती से मिलेगा। कांग्रेस की ओर से आज जारी विज्ञप्ति के अनुसार कांग्रेस का प्रतिनिधिमंडल कल गुना पहुंचकर दलित दंपती से मिलेगा और वस्तुस्थिति की जानकारी लेगा।

प्रतिनिधिमंडल में पूर्व मंत्री बाला बच्चन, जयवर्धन सिंह, हुकुम सिंह कराड़ा, प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष सुरेंद्र चौधरी, रामनिवास रावत, फूल सिंह बरैया, विधायक हीरालाल और बलवीर तोमर शामिल हैं।

गुना जिले के जगनपुर गांव में मंगलवार को अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई के दौरान राजकुमार अहिरवार और उसकी पत्नी सावित्रीबाई ने जहरीला पदार्थ पी लिया था। सरकारी जमीन पर अतिक्रमण करने का आरोपी गब्बू पारदी इस दंपती के अलावा उनके बच्चों को भी कीटनाशक पीने के लिए उकसा रहा था। इस दौरान पुलिस कर्मचारियों ने इस दंपती के साथ मारपीट भी की। इस घटना का वीडियो कल से ही सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है।