गुजरात में लगातार आठवें दिन भी कोरोना के नये मामलों का रिकार्ड, सक्रिय मामले 9111

CoraCorona case crosses 38000 in gujaratona case crosses 37600 in gujarat
Corona case crosses 38000 in gujarat

गांधीनगर। गुजरात में पिछले 24 घंटे में कोरोना विषाणु यानी कोविड-19 संक्रमण से 16 और लोगों की मृत्यु हो गयी जिससे अब तक की कुल मौतों का आंकड़ा 1995 हो गया है तथा इसके 783 नये मामले सामने आये हैं, जो अब तक किसी एक दिन के लिए सर्वाधिक हैं और इससे संक्रमितों की कुल संख्या 38419 पर पहुंच गयी है।

इससे पहले के सात दिनों में क्रमश: 778, 735, 725, 712, 687, 681 और 675 नये मामले आये थे और आज लगातार आठवें दिन इसमें बढ़ोत्तरी ही दर्ज की गयी है। आज नये मामलों के मामले में हीरा एवं कपड़ा उद्योग के विश्वविख्यात केंद्र सूरत ने लगातार पांचवी बार और कुल मिला कर सातवीं बार सर्वाधिक प्रभावित अहमदाबाद को पीछे छोड़ दिया। पिछले कुछ दिनों से इस दक्षिणी जिले में मामले तेजी से बढ़ रहे हैं जबकि अहमदाबाद में इनकी संख्या कुछ कम हो रही है।

पिछले 24 घंटे में 569 और लोगों के ठीक होने से अस्पतालों से अब तक छुट्टी पाने वालों का आंकड़ा बढ़ कर 27313 हो चुका है।

आज पांच-पांच मौतें अहमदाबाद और सूरत, तीन राजकोट और एक-एक अमरेली, जामनगर और मोरबी में हुई है।
स्वास्थ्य विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार राज्य मे पिछले 24 घंटे में जिन लोगों को अस्पतालों से छुट्टी दी गयी है उनमें से 170 अहमदाबाद, 101 वडोदरा और 181 सूरत के हैं। अब सक्रिय मामले 9111 हैं जिनमें से 67 वेंटिलेटर यानी जीवन रक्षक प्रणाली पर हैं।

अब तक कुल सवा चार लाख से अधिक लोगों की जांच की गयी है जबकि पौने तीन लाख से अधिक लोग क्वारंटीन में हैं।

सरकारी आंकड़ों के अनुसार आज के नये मामलों में सर्वाधिक प्रभावित अहमदाबाद के 156 वडोदरा के 67 और सूरत के 273 हैं। राज्य के सभी 33 जिले कोरोना प्रभावित हैं। पिछले कुछ दिनों से सूरत में मामले तेजी से बढ़ रहे हैं।

सर्वाधिक 22419 मामले और 1501 मौतें अहमदाबाद में दर्ज की गयी हैं जहां 17423 लोगों को अस्पताल से छुट्टी भी मिली है। सूरत में 6721 मामले, 196 मौतें तथा 4267 स्वस्थ हुए हैं। वडोदरा में 2765 मामले, 51 मौतें और 1973 स्वस्थ हुए हैं। ज्ञातव्य है कि राज्य में पहले दो मामले 19 मार्च को राजकोट और सूरत में मिले थे। पहली मौत सूरत में 22 मार्च को दर्ज हुई थी।

मौतों के मामले में गांधीनगर 33, अरवल्ली 20 और पाटन 18, राजकोट 14 भी प्रमुख हैं।