अजमेर संभाग में कोरोना के 291 नए केस, 5 की मौत

अजमेर। राजस्थान के अजमेर संभाग में कोरोना संक्रमण में निरंतर गिरावट के चलते जहां आज संभाग के चारों जिलों में आंकड़ा कम रहा है वहीं अजमेर शहर के तीनों सरकारी अस्पतालों में 256 खाली पड़े हैं। संभाग में आज नये संक्रमित 291 आए हैं, पांच की मृत्यु रिकॉर्ड में दर्ज हुई है तथा 1122 मरीज डिस्चार्ज किए गए है।

संभाग के अजमेर जिले से 103 नए संक्रमित एवं एक की मृत्यु, भीलवाड़ा से 82 नये संक्रमित तथा दो की मृत्यु, नागौर से 65 नये संक्रमित एवं एक की मृत्यु, टोंक से 41 नए संक्रमित एवं एक की मृत्यु रिकॉर्ड में दर्ज हुई है। इसी तरह अजमेर से 493, भीलवाड़ा से 305, नागौर से 192 व टोंक से 122 संक्रमित मरीज रिकवर हुए हैं।

अजमेर शहर के जवाहरलाल नेहरू चिकित्सालय में 205, आदर्श नगर स्थित सेटेलाइट अस्पताल में 22, तथा पंचशील अस्पताल में 29 बिस्तर खाली पड़े है। इन तीनों ही स्थानों से आज 31 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया है।

सेना की तकनीकी टीम ने किया आक्सीजन सिलेंड़रों को निरीक्षण

राजस्थान में अजमेर के जेएलएन चिकित्सालय में आज सेना की एक तकनीकी टीम ने ऑक्सीजन प्लांट के जरिए भरे जाने वाले सिलेंडरों आदि का तकनीकी दृष्टिकोण से निरीक्षण किया।

जिला प्रशासन की मांग पर नसीराबाद छावनी से जवानों का तकनीकी दल जेएलएन पहुंचा और ऑक्सीजन प्लांट के जरिए वार्डों में की जा रही सप्लाई तथा ऑक्सीजन भरने की प्रक्रिया को तकनीकी दृष्टि से परखा।

पुष्ट जानकारी के अनुसार फिलहाल कोई खामी नजर नहीं आई लेकिन बताया जा रहा है कि जिला प्रशासन ने आर्मी स्थित सेना कमांडर से सहयोग मांगा था जिसके चलते दल अस्पताल पहुंचा था।

गौरतलब है कि ऑक्सीजन ट्रिपिंग और उसके फ्लो में फ्ल्कचुएशन के चलते गत दिनों हुई मौतों के बाद चिकित्सालय प्रशासन एवं विधायक अनिता भदेल के बीच विवाद हो गया था।