24वीं सिंधु दर्शन यात्रा पर कोरोना वायरस का खतरा

बीकानेर। हिमालय परिवार एवं सिंधु दर्शन यात्रा समिति की ओर से चैबीसवीं सिंधु दर्शन यात्रा के आयोजन पर कोरोना वायरस का खतरा मंडरा रहा है।

हर वर्ष की भांति 18 जून से शुरु होने वाली यात्रा उसी सूरत में होगी जब सब कुछ ठीक ठाक रहेगा तो ही इस यात्रा का आयोजन होगा। सैंट्रल कार्यालय से भूपेंद्र कंसल ने हिमालय परिवार के प्रदेशाध्यक्ष अखिलेश प्रताप सिंह व जिलाध्यक्ष मशहूर पर्वतारोही डॉ. सुषमा बिस्सा को इस बाबत् जानकारी दी है।

डॉ. बिस्सा ने बताया कि जून महीने के पहले सप्ताह में सिंधु दर्शन यात्रा कार्यक्रम को लेकर तारीख तय की जाएगी। डॉ. बिस्सा ने बताया कि लेह को अलग राज्य का दर्जा मिलने के कारण इस बार अलग उत्साह के साथ यह आयोजन होना था और तैयारियों भी जोरों से चल रही थी, लेकिन कोरोना वायरस के कारण सभी व्यवस्थाओं में बदलाव संभव है।

उन्होंने बताया कि पूरे देशभर से पहुंचने वाले लोगों में से इस बार चुनिंदा लोगों का ही चयन किया जाएगा। उन्होंने यह भी बताया कि सिन्धु दर्शन यात्रा का मुख्य उद्देश्य देश की सबसे प्राचीन सिन्धु संस्कृति को अक्षुण बनाए रखने एवं सिन्धु संस्कृति को भारत की एकता तथा साम्प्रदायिक सद्भाव के प्रतीक लोगों को बताना है।